January 25, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर पलामू के दो स्थानों पर हुआ ड्राई रन

ड्राई रन के दौरान मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल पहुंचे उपायुक्त

मेदिनीनगर:- कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर पलामू जिला प्रशासन जोर-शोर से तैयारियों में जुटी है। इसे लेकर पलामू जिले के दो स्थान मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल मेदनीनगर एवं अनुमंडलीय अस्पताल छतरपुर में कोविड-19 ड्राई रन किया गया। मेदनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सिविल सर्जन डॉ. जॉन एफ केनेडी एवं अनुमंडलीय अस्पताल छतरपुर में छतरपुर अनुमंडल पदाधिकारी एनपी गुप्ता की देखरेख में ड्राई रन कराया गया। ड्राई रन के मौके पर पलामू उपायुक्त श्री शशि रंजन मेदनीराय मेडिकल कॉलेज पहुंचे और वहां ड्राई रन कार्य की प्रक्रियाओं को जाना। ड्राई रन कर बिना वैक्सीन लगाये उस पूरी प्रक्रियाओं को जाना गया, जो वैक्सीन के दौरान की जानी है। उपायुक्त ने ड्राई रन के माध्यम से पूरी प्रक्रियाओं को परखा कि वैक्सीनेशन के अपनाये जा रहे प्रक्रिया कितना कारगर है।

उपायुक्त ने वैक्सीनेशन के लिए आने वाले व्यक्ति का प्रवेश से लेकर उनके निकास तक की पूरी प्रक्रिया को बारीकी से जाना। वहीं इसका ट्रायल करके भी देखा गया, ताकि वैक्सीनेशन के दौरान किसी तरह की कोई समस्या नहीं हो।
साथ ही उन्होंने ड्राई रन के दौरान आने वाली छोटी-छोटी समस्याओं को समय रहते दूर करने का निर्देश दिया, ताकि वास्तविक रूप से वैक्सीनेशन के दौरान किसी तरह की कोई कठिनाई नहीं हो। उन्होंने तकनीकी समस्याओं को भी दूर करते हुए वैक्सीनेशन कार्य करने का निर्देश दिया।
उपायुक्त ने कहा कि वैक्सीनेशन के लिए आइडेंटिफिकेशन जरूरी है। इसमें शिकायत नहीं मिलनी चाहिए। वैक्सीनेशन वास्तविक लाभुक को ही होनी चाहिए। उन्होंने वैक्सीनेशन कार्य में लगे स्वास्थ्यकर्मियों को पूर्ण प्रशिक्षण एवं वैक्सीनेशन को लेकर स्वास्थ्यकर्मियों का पूर्ण डाटाबेस तैयार रखने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने छोटी समस्याएं भी नहीं आने का निदेश दिया। उन्होंने कहा कि यदि किसी तरह की सुधार की जरूरत है, तो इसे तत्काल दूर करते हुए वैक्सीनेशन के पूर्व ही सुधार करना सुनिश्चित करें।
उपायुक्त ने कहा कि पलामू में ड्राई रन सफल रहा। जिले के 2 स्थानों पर कोविड-19 का ड्राइ रन विभाग द्वारा प्रदत दिशा निर्देश के अनुरूप किया गया है। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन को लेकर पलामू में तैयारियां पूरी है।
मेदिनीराय मेडिकल कॉलेज अस्पताल एवं अनुमंडलीय अस्पताल छतरपुर में 25-25 स्वास्थ्यकर्मियों पर ड्राई रन चलाया गया। इसके लिए वैक्सिनेटर के 5-5 लोगों की टीम बनाकर उन्हें लगाया गया था। वैक्सीनेशन को लेकर लाभुकों का रजिस्ट्रेशन, जांच, मास्क देने, सैनेटाइजर से हाथों को सैनेटाइज कराने, उनके बीच सोशल डिस्टेंसिंग रखना, लाभुकों की इंट्री कराने आदि कार्य के बाद एएनएम के पास वैक्सीनेशन करने का ड्राई रन किया गया। इसके बाद लाभुकों 30 मिनट के लिए ऑबजर्वेशन में रखा गया। उपायुक्त श्री शशि रंजन ने ड्राई रन के दौरान इन सभी प्रक्रियाओं को बारीकी से देखा। साथ ही वैक्सीनेशन स्थल एवं वैक्सीनेशन को लेकर वहां की गई तैयारियों की पूरी जानकारी ली। वैक्सीनेशन के बाद उसका एडवर्स रियेक्शन के लिए गठित कमेटी के कार्यो की भी जानकारी ली। इसके बाद उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला टास्क फोर्स की बैठक हुई, जिसमें अबतक की तैयारियों की समीक्षा की गयी।
मौके पर मेदिनीराय मेडिकल कालेज अस्पताल के अधीक्षक डॉ. केएन सिंह, सिविल सर्जन डॉ. जॉन एफ केनेडी, डीआरसीएचओ डॉ. अनील कुमार, डॉ. एमपी सिंह, डीपीएम स्वास्थ्य दीपक कुमार, रिजनल कॉडिनेटर आईईसी कनक राज पाठक आदि उपस्थित थे।
इधर, छतरपुर में अनुमंडल पदाधिकारी एनपी गुप्ता की देखरेख में ड्राई रन किया गया। उन्होंने कहा का वैक्सीनेशन के लिए आये चिन्हित व्यक्तियों के बीच सोशल डिस्टेंस रखा जायेगा। उनके रजिस्ट्रेशन की जांच होगी, उन्हें मास्क दिया जायेगा, हाथों को सैनेटाइज कराया जायेगा और वे अपनी बारी आने प्रीतक्षा रूम में बैठेंगे,
अपना नम्बर आने पर ही वे वैक्सीनेशन रूम में जाएंगे, जहाँ उनकी जांच होगी व उसके बाद वैक्सीनेशन किया जायेगा। वैक्सीनेशन के बाद व्यक्ति को ऑब्जर्वेशन रूम में आधे घंटे तक रखा जायेगा। यदि इस दौरान कोई प्रतिक्रिया होती है, तो तुरंत उसे रिकवरी रूम में ले जाया जाएगा। जहां उसकी जांच कर चिकित्सक द्वारा समुचित इलाज किया जाएगा। स्थित में सुधार नहीं होने की स्थिति में एम्बुलेंस से चिकित्सा हेतु तत्काल भेजा जाएगा। ड्राई रन के बाद ब्लॉक लेबल टास्क फोर्स की बैठक हुई, जिसमें वैक्सीनेशन की तैयारियों की समीक्षा की गयी और इससे संबंधित रिपोर्ट जिला को भेजी गई।

Recent Posts

%d bloggers like this: