अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जोखिमों से भरे सफर के खिलाड़ी को देख सर्कस न समझें

अररिया 03 जुलाई:- जोखिमों से खेलते इन खिलाड़ियों को देख सर्कस न समझने की भूल करेगें। हकीकत कुछ और भी है।‌ उतर बिहार के अररिया जिला‌ अंतर्गत पलासी प्रखंड स्थित चौरी पंचायत के फुल्सरा गांव के लोगों को आजादी के सात दसक बीतने के बाद‌ भी आवागमन में राहत नही मिल सका है।खासकर उन दिनों जब बारिश का मौसम हो और नदी नाले भर जाते हो तब अपने गांव से प्रखंड मुख्यालय तक के सफर‌ में कुछ पड़ाव ऐसे भी हैं जहां जीवन जोखिम से कम नही है अगर जोखिम भरा सफर तय हो गया तो समझे मुकाम मिल गया अन्यथा मौत को भी गले लगाना पड़ सकता है।

जोखिम भरे इस सफर में छोटे- छोटे नाले पर ग्रामीणों का जुगांड़ पथ बास- बत्ती से बना ये चचरी पुल तो कहीं सिर्फ बास-बल्ले के सहारे लोगों का सफर वास्तव में चिन्ताजनक है। जोखिम से खेलते छोटे-छोटे बच्चों को देख किसी भी इंसान का दिल दहल जाए मगर‌ ना जाने क्यों शासन और प्रशासन इस खतरों के खिलाड़ियों से बेखबर है लेकिन विकास के प्रति मजबुत इरादें की सरकार में स्थानीय जनप्रतिनिधियों का बेखबर रहना बड़ा सवाल है ?

संवाददाता : सुबोध

%d bloggers like this: