May 11, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

नवादा में चिकित्सक की कोरोना से मौत, डीईओ पटना रेफर

नवादा:- नवादा जिले के वारिसलीगंज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत आयुष चिकित्सक डॉ धनंजय कुमार सिन्हा का असामयिक निधन कोरोना से हो गया। वे 45 वर्ष के थे। वही नवादा के जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार चौधरी को कोरोना से स्थिति बिगड़ने पर पटना भेज गया है।आईएमए के जिला सचिव डॉ ए के अरुण ने मंगलवार को बताया कि पटना के एक निजी क्लीनक में उन्होंने अंतिम सांसे ली। बताया गया कि डॉ धनंजय एक माह पूर्व सड़क दुर्घटना में जख्मी हो गए थे। तब से वे राजधानी पटना के हिमालया नामक निजी अस्पताल में इलाज करवा रहे थे। इसी दौरान वे कोरोना से भी संक्रमित हो गए थे। कोरोना ने उन्हे इस कदर अपनी आगोश में लिया की उससे उबर नहीं सकेे। चिकित्सक मूलत: नालंदा जिला के निवासी बताए गए हैं। साथी चिकित्सक की आकस्मिक मौत की सूचना मिलते ही वारिसलीगंज पीएससी में शोक व्याप्त हो गया। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ आरती अर्चना के नेतृत्व में पीएचसी वारिसलीगंज के सभागार भवन में शोक सभा आयोजित हुआ। दिवंगत आत्मा की शांति के लिए चिकित्सकों व स्वास्थ्यकर्मियों ने ईश्वर से प्रार्थना की। शोक सभा के बाद पीएससी वारिसलीगंज आकस्मिक सेवा को छोड़कर एक दिन के लिए बंद कर दिया गया। इधर जिला शिक्षा कार्यक्रम पदाधिकारी मोहम्मद जमाल ने बताया कि जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार चौधरी को कोरोना से प्रभावित होने के कारण स्थिति गंभीर हो गई थी। जिन्हें चिंताजनक हालत में पटना भेजा गया । ऑक्सीजन सिलेंडर उनकी स्थिति को देखते हुए नवादा से भेजा गया ।जहां उनकी स्थिति स्थिर बताई जा रही है। उन्होंने कहा कि सभी विभाग के अधिकारी व कर्मचारी बेहतर स्वास्थ्य की कामना करते है। उन्होंने वर्तमान स्थिति में जिला शिक्षा पदाधिकारी की हालत में सुधार की बात कही है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: