अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

आपातकाल लगाने वालों का डीएनए भारत में है जिंदाः दीपक प्रकाश

आपातकाल विरोध दिवस पर भाजपा ने मनाया काला दिवस

रांची:- आपातकाल विरोध दिवस पर प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद दीपक प्रकाश ने कहा कि जयप्रकाश नारायण, अटल बिहारी वाजपेई, लालकृष्ण आडवाणी, मोरारजी देसाई और सत्याग्रह संचालन करने वाले अग्रजों के कारण हमारा मौलिक अधिकार बचा हुआ है।
उन्होंने कहा कि आपातकाल के पूर्व, पूरा देश इंदिरा गांधी सरकार के भ्रष्टाचार से तंग आ चुका था। संपूर्ण क्रांति, महंगाई, भ्रष्टाचार और राइट टू रिकॉल की लड़ाई लड़ी जा रही थी। इंदिरा ने सत्ता बचाने के लिए देश पर काला कानून आपातकाल थोप दिया। इस दौरान विपक्षी दल के एक लाख से ज्यादा नेताओं को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया, जहां पुलिसिया दमन और बर्बरता की पराकाष्ठा की गई। उन्होंने कहा कि देश में आज भी आपातकाल लगाने वालों का डीएनए जिंदा है। जिन्हें ना तो लोकतंत्र, प्रजातंत्र, लोकतांत्रिक संस्थाओं और न ही संवैधानिक संस्थाओं पर भरोसा है। कांग्रेस की नीति नीयत और नेतृत्व को लोकतंत्र पर विश्वास नहीं है। पार्टी में भी आंतरिक लोकतंत्र समाप्त हो चुका है।
उन्होंने मनमोहन सिंह के कार्यकाल को याद करते हुए कहा कि मनमोहन सिंह देश के प्रधानमंत्री थे किंतु देश सोनिया गांधी चला रही थी, यह लोकतांत्रिक व्यवस्था के खिलाफ है।

%d bloggers like this: