March 9, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण का धनबाद बनेगा गवाह

सफाई कर्मचारी को मिलेगा जिले का प्रथम कोविड-19 प्रतिरोधी टीका

धनबाद:- विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण का आगाज धनबाद में भी 16 जनवरी को होगा। यहां के 2 प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में 100-100 लोगों को टीका लगाया जाएगा। टीकाकरण की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। माननीय प्रधानमंत्री 16 जनवरी को 10ः30 बजे इसकी लॉन्चिंग करेंगे। उसके बाद धनबाद में भी टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू होगी। धनबाद में टीकाकरण के लिए 16000 हेल्थ वर्कर का रजिस्ट्रेशन हुआ है।
जिले में टीकाकरण की प्रक्रिया की उपरोक्त जानकारी उपायुक्त उमा शंकर सिंह ने आज आयोजित पत्रकार वार्ता में मीडिया को दी। उपायुक्त ने बताया कि 16 जनवरी 2021 को माननीय प्रधानमंत्री सुबह 10ः30 बजे इसकी लॉन्चिंग करेंगे। उसके बाद जिले के टुंडी एवं तोपचांची के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में 100-100 लोगों को टीके का लाभ मिलेगा। सफाई कर्मचारी को सम्मान देने के उद्देश्य से जिले का प्रथम टीका सफाई कर्मी को लगाया जाएगा। उन्होंने कहा टीकाकरण बिल्कुल निशुल्क है। इसके लिए लाभुक से कोई राशि नहीं ली जाएगी। दूसरे चरण में फ्रंटलाइन वर्कर, जिला प्रशासन, पुलिस पदाधिकारी सहित अन्य को टीका लगाया जाएगा।
उन्होंने बताया कि टीकाकरण के लिए लाभुकों का चयन कोविड पोर्टल द्वारा किया गया है। सभी 200 लाभुकों को कंट्रोल रूम से फोन करके इसकी जानकारी दी जाएगी। लाभुकों को टीकाकरण से संबंधित एसएमएस उनके मोबाइल पर भी प्राप्त होगा। टीका देने से पहले लाभुक की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। सर्दी, खांसी या किसी अन्य बीमारी के लिए उसका स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा। सभी मानकों को पूरा करने के बाद टिका दिया जाएगा।
उपायुक्त ने बताया कि धनबाद को टीके के 11750 डोज मिले हैं। 5 एमएल की 1175 वाइल मिली है। एक लाभुकों को 5 एमएल डोज दिया जाएगा। पहला डोज लेने के बाद 28 दिन के बाद उसी लाभुक उसी मानक का दूसरा डोज दिया जाएगा।
उपायुक्त ने कहा कि कोविड-19 प्रतिरोधी टीका को लेकर सोशल मीडिया या अन्य माध्यम से गलत जानकारी या अफवाह फ़ैलाने वालों के विरुद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत कड़ी कार्रवाई की जाएगी। इसके लिए कंट्रोल रूम, सभी थाना एवं प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया है।
उपायुक्त ने बताया कि कोविड-19 प्रतिरोधी टीकाकरण में अतिरिक्त सतर्कता तथा एक्यूरेसी के साथ सुनियोजित तरीके से टीकाकरण कार्य को संपन्न कराना है। इसके लिए एसओपी का निर्धारण किया है। एसओपी के तहत हर टीकाकरण स्थल पर तीन स्वच्छ कमरे, निर्बाध बिजली की व्यवस्था, हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्टिविटी, साफ सफाई, पीने का पानी, हैंड सैनिटाइजर, वेबकास्टिंग सहित अन्य सुविधाएं रहेगी।
उपायुक्त ने बताया कि वैक्सीनेशन के दौरान किसी भी आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिए एईएफआइ (आफ्टर ईफेक्ट फ्रॉम इम्यूनाइजेशन) मैनेजमेंट की तैयारी की गई है। टुंडी एवं तोपचांची पीएचसी पर प्राथमिक उपचार की व्यवस्था रहेगी। साथ ही सदर अस्पताल धनबाद एवं एसएनएमएमसीएच में एईएफआइ मैनेजमेंट किट के साथ रिजर्व रखे गए हैं। जहां इमरजेंसी दवाइयां, ऑक्सीजन सिलेंडर सहित आपातकालीन किट के साथ चिकित्सक उपलब्ध रहेंगे।
उपायुक्त ने लाभुकों को कोविड-19 प्रतिरोधी टीका अवश्य लेने की अपील की है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि लाभुक सूचना के अनुसार संबंधित स्वास्थ्य केंद्र पर समय पर पहुंचकर अपनी, अपने परिवार की तथा समाज की सुरक्षा के लिए अवश्य रूप से कोविड-19 प्रतिरोधी टीका लगवाए। पत्रकार वार्ता में उपायुक्त उमा शंकर सिंह, डॉ राजकुमार सिंह, डीआरसीएचओ डॉ विकास कुमार राणा, डब्ल्यूएचओ के डॉ अमित तिवारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी ईशा खंडेलवाल उपस्थित थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: