January 17, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

उपायुक्त ने किया पारस एचईसी अस्पताल का दौरा तैनात कर्मियों से की मुलाकात, लिया सुरक्षा उपकरणों की उपलब्धता का जायजा

रांची :- रांची के उपायुक्त छवि रंजन ने पारस एचईसी अस्पताल का दौरा किया। इस दौरान उप विकास आयुक्त अनन्य मित्तल, अनुमण्डल पदाधिकारी लोकेश मिश्रा, सहित सिविल सर्जन एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे। इस दौरान उन्होंने वहां कार्यरत डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मी एवं अन्य सहयोगी कर्मियों से मुलाकात कर व्यवस्था की जानकारी ली। इस दौरान कुछ कर्मियों ने अस्पताल प्रबंधन टीम द्वारा रात के वक़्त असहयोग की स्थिति के बारे में उपायुक्त को अवगत कराया। जिस पर उपायुक्त ने तुरंत ही संज्ञान में लेते हुए सिविल सर्जन, रांची डॉ बीबी प्रसाद को समाधान कर स्थिति से अवगत कराने का निदेश दिया। अस्पताल में कार्यरत कुछ डॉक्टरों को अपने कार्य के प्रति पूरी जिम्मेवारी दिखाने एवं स्वास्थ्य सेवा में आने से पहले ली गई शपथ की याद दिलायी। साथ ही सख्त निदेश देते हुए उन्होंने कहा, “मेरे पास कभी-कभी इस तरह की शिकायतें आती हैं कि अस्पताल में किसी प्रकार की समस्या आ रही है, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है। इस तरह की शिकायत दुबारा नहीं आनी चाहिए। हम सभी को मिलकर इस समस्या से लड़ना होगा।“
साथ ही कार्यरत कर्मियों को संबोधित करते हुए उन्होंने आश्वासन देते हुए कहा कि, “आप सभी अपना काम पूरी ईमानदारी और निष्ठा से कर रहे हैं जो कि तारीफ़ के काबिल है। आगे आपको काम करने में किसी भी तरह की समस्या नहीं आएगी। साथ ही जिला प्रशासन इस लड़ाई में हर संभव मदद के लिए उनके साथ खड़ा है।“
सिविल सर्जन रांची डॉ बीबी प्रसाद को निदेश देते हुए उन्होंने कहा कि, “जिन कर्मियों या विजिटिंग डॉक्टर को अभी तक आस – पास रहने की व्यवस्था नहीं दी गई है, वो तुरंत सुनिश्चित कर उन्हें अवगत कराएं।“ सहायक कर्मियों की कमी की स्थिति में उन्होंने कहा कि, “वार्ड के बाहर कार्यरत अन्य सहायक कर्मियों की जरूरत है तो इस संबंध में एक पत्र कार्यालय को भेजें, उसकी व्यवस्था की जाएगी।“

पीपीई किट, फेस शील्ड, मास्क की नहीं हो कोई कमी
उपायुक्त छवि रंजन ने पारस एचईसी अस्पताल में कार्यरत कर्मियों के लिए स्टोर में पीपीई किट, मास्क, फेस शील्ड, हैंड सैनिटाइजर इत्यादि की स्थिति का जायजा लिया। जिस पर सिविल सर्जन रांची डॉ बीबी प्रसाद ने बताया कि, “अस्पताल को समुचित मात्रा में पीपीई किट, मास्क, फेस शील्ड इत्यादि की कमी नहीं है। इसकी समुचित मात्रा अस्पताल के स्टोर में भी उपलब्ध करायी गई है।

सीनियर डॉक्टर प्रतिदिन कम से कम 2 बार उपायुक्त को स्थिति से कराएंगे अवगत

अस्पताल प्रबंधन के लिए पारस एचईसी में प्रतिनियुक्त डॉक्टरों से दिन में 2 बार रिपोर्टिंग करने हेतु उन्हें निदेशित किया गया है। उपायुक्त ने सिविल सर्जन रांची को निदेश दिया कि प्रतिदिन दिन में 2 बार, यहां तैनात लीड डॉक्टर सीधे मुझे यहां की स्थिति से अवगत कराएंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि, एचईसी पारस कोविड अस्पताल में कार्यरत किसी भी कर्मी चाहे वो वार्ड में ड्यूटी कर रहा हो या प्रबंधन में कार्यरत हो, उसकी और कहीं भी ड्यूटी नहीं लगनी चाहिए। वो अपनी पूरी सेवा फिलहाल सिर्फ यहां एडमिट किए गए मरीजों को देंगे।

शिफ्ट में ड्यूटी करेंगे बीपीएम, मरीज का एडमिशन करेंगे सुनिश्चित
पारस एचईसी अस्पताल में तैनात किए गए बीपीएम को अलग-अलग शिफ्ट में ड्यूटी लगाने का निदेश दिया गया। साथ ही डीपीएम एवं सिविल सर्जन को यह निदेश दिया गया कि पारस एचईसी कोविड अस्पताल में तैनात बीपीएम अस्पताल में आने हर एक मरीज के अस्पताल पहुंचने से लेकर वार्ड में एडमिशन तक की पूरी प्रक्रिया पर नज़र रखते हुए, मरीज को अस्पताल में एडमिट करवाना सनिश्चित करेंगे।

इंसिडेंट कमांडर रात में भी अस्प्ताल का करेंगे दौरा
उपायुक्त रंजन ने कहा कि, “एचईसी पारस कोविड अस्प्ताल में प्रतिनियुक्त इंसिडेंट कमांडर रात में भी अस्पताल विजिट करेंगे, साथ ही अस्पताल में तैनात डॉक्टर, स्वास्थ्यकर्मियों एवं बीपीएम इत्यादि की उपस्थिति का लेंगे जायजा। अगर कोई इस दौरान गैर मौजूद रहता है तो उसके जानकारी सिविल सर्जन रांची को उपलब्ध करवाएंगे।

Recent Posts

%d bloggers like this: