अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

केसीसी को लेकर उपायुक्त ने की बैंक प्रतिनिधियों के साथ समीक्षा बैठक


सभी प्रखंडों के बैंक शाखाओं में शिविर लगाने का एकमात्र उद्देश्य ज्यादा से ज्यादा केसीसी ऋण की स्वीकृति प्रदान करनाःडीसी
हजारीबाग:- किसान क्रेडिट कार्ड को लेकर सभी बैंक प्रतिनिधियों के साथ उपायुक्त आदित्य कुमार आनंद ने सोमवार को समाहरणालय सभाकक्ष में समीक्षा बैठक की। उन्होंनें कहा कि सभी प्रखंडों में केसीसी ऋण स्वीकृति को लेकर विभिन्न बैंक शाखाओं में शिविर लगाकर किसानों के केसीसी ऋण स्वीकृति के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं।उपायुक्त ने विभिन्न बैंकों के द्वारा चलाए जा रहे शिविर में अब तक की प्रगति की समीक्षा की,उन्होंने कहा कि बैंक केसीसी को लेकर अब भी सुस्त रवैया अपना रही है तथा आशानुरूप अब भी इस संबंध में प्रगति नहीं हो पाई हैद्य उन्होंने बैंक प्रतिनिधियों को बार-बार रिमाइंडर देने के बावजूद केसीसी ऋण स्वीकृति के गति में वृद्धि नहीं हो पाना खेतजनक बतायाद्य अपेक्षाकृत कम कृषि ऋण स्वीकृति पर उपायुक्त ने सभी बैंकों से निरस्त किए गए आवेदनों की कारणों की लिखित सूची मांगीद्य मौके पर बैंकों द्वारा किसानों के दो अकाउंट होना प्रोसेस में बाधक बताया,इस पर उपायुक्त ने किसानों को एक ही अकाउंट रखने की सलाह दीद्य साथ ही मौके पर जमीन रसीद के सत्यापन पर इस कार्य को ब्लॉक के कर्मचारी द्वारा कराने की बात कही। उन्होंने अकारण या बिना किसी ठोस रीजन के आवेदन निरस्त नहीं करने की बात कहीद्य साथ ही उन्होंने कहा कि कृषकों का पीएम किसान में पंजीकृत ना होना अस्वीकृति का कारण नहीं बनेद्य उन्होंने बैंकों में आए आवेदनों को नियमित जांच करने का निर्देश कृषि पदाधिकारी को दियाद्य उपायुक्त ने कहा नियमित कैंप लगाने का एकमात्र उद्देश्य अधिक से अधिक आवेदनों को स्वीकृति प्रदान करना है छूटे हुए किसान परिवारों जिनका केसीसी ऋण का लाभ नहीं मिला है उनको आवश्यक रूप से जोड़ने का निर्देश दियाद्य वहीँ प्राथमिकता के आधार पर सभी लंबित आवेदनों को डिस्पोज करने की बात कही। उन्होंने धान अधिप्राप्ति में पंजीकृत कृषकों को केसीसी मिला है या नहीं इसकी मॉनिटरिंग करने की जिम्मेवारी कृषि पदाधिकारी को दिया। मौके पर इस संबंध में जल्द अगली बैठक करने की बात कही।
इस अवसर पर उपायुक्त के अलावे एलडीएम सुधाकर पांडे,जिला कृषि पदाधिकारी राजेंद्र किशोर,आत्मा परियोजना निदेशक अनुरंजन सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी परिमल कुमार व विभिन्न बैंकों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

%d bloggers like this: