March 7, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रणधीर वर्मा स्टेडियम में उपायुक्त ने किया झंडोत्तोलन

अपने संबोधन में उपायुक्त ने कहा

3 लाख 71 हजार लोगों का किया कोरोना टेस्ट

अग्नि एवं भू-धंसान प्रभावितों के लिए स्मार्ट टाउनशिप परियोजना पर किया जा रहा है काम

कोविड-19 प्रतिरोधी टीका के लिए 20 हजार से अधिक का रजिस्ट्रेशन

गुणवत्ता युक्त सुविधाओं के साथ अग्नि एवं भू-धंसान प्रभावितों को किया जाएगा पुनर्स्थापित

पायलट प्रोजेक्ट के तहत की जाएगी इंटेलीजेंट ट्रैफिक सिस्टम की शुरूआत

स्मार्ट वॉटर मैनेजमेंट सिस्टम होगी लागू

स्वास्थ्य एवं शिक्षा के लिए तैयार है विजन प्लान डोक्युमेंट

ई-समाधान पोर्टल पर 78% शिकायतों का निराकरण

गणतंत्र दिवस के अवसर पर रणधीर वर्मा स्टेडियम में आयोजित मुख्य समारोह में उपायुक्त श्री उमा शंकर सिंह ने जिले के सर्वांगीण विकास के लिए स्वास्थ्य, ई समाधान, जेआरडीए, स्वास्थ्य एवं शिक्षा क्षेत्र का विजन प्लान, इंटेलीजेंट ट्रैफिक सिस्टम, स्मार्ट वॉटर मैनेजमेंट सिस्टम सहित विभिन्न महत्वपूर्ण बिंदुओं पर प्रकाश डाला।

3 लाख 71 हजार लोगों का किया कोरोना टेस्ट

उपायुक्त ने कहा कि धनबाद में कोरोना संक्रमित मरीजों को बेहतर चिकित्सा प्रदान करने के लिए एक हजार बेड के डेडीकेटेड कोविड-19 होस्पिटल खोले गए। शहीद निर्मल महतो चिकित्सा महाविद्यालय परिसर के कैथ लैब में तथा सेंट्रल अस्पताल में 30 बैठ के आईसीयू की स्थापना लगभग एक करोड रुपए की लागत से की गई। जिससे अति गंभीर कोरोना संक्रमित मरीजों को बेहतर उपचार की सुविधा मिली। गंभीर मरीजों के उपचार के लिए प्लाजमा थेरेपी मशीन, कोरोना मरीजों को चिन्हित करने के लिए बड़े पैमाने पर आरटी पीसीआर, आरएटी एवं ट्रूनेट से जांच की गई। जिले में अन्य 10-11 पड़ोसी जिलों के रोगियों की भी जांच की गई। अब तक धनबाद में 3,71,000 लोगों की कोरोना टेस्ट की गई है। जिसमें 7479 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए। इसमें से 7313 रोगियों को कोरोना से मुक्त करा दिया गया।

कोविड-19 प्रतिरोधी टीका के लिए 20 हजार से अधिक का रजिस्ट्रेशन

उपायुक्त ने कहा कि कोविड-19 प्रतिरोधी टीकाकरण के लिए जिले के 20,000 से अधिक हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर की प्रविष्टि कोविन पोर्टल पर की जा चुकी है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र तोपचांची एवं टुंडी में 16 जनवरी 2021 से वैक्सीनेशन कार्य प्रारंभ किया गया। वर्तमान में सदर अस्पताल में हेल्थ केयर वर्कर्स का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अब तक 600 हेल्थ केयर वर्कर को वैक्सीन दिया जा चुका है।

गुणवत्ता युक्त सुविधाओं के साथ अग्नि एवं भू-धंसान प्रभावितों को किया जाएगा पुनर्स्थापित

झरिया कोलफील्ड के अग्नि एवं भू-धंसान से प्रभावित परिवारों के लिए स्मार्ट टाउनशिप परियोजना पर काम तीव्र गति से किया जा रहा है। योजना के कार्यान्वयन के लिए एक अध्ययन दल को आंध्र प्रदेश स्थित पोलावरम डैम परियोजना के पुनर्वास एवं पुनर्स्थापन करने हेतु भेजा गया था। जिला प्रशासन का यह प्रयास है कि जेआरडीए एवं बीसीसीएल के प्रयास से प्रभावित परिवारों को सभी प्रकार की गुणवत्ता युक्त सुविधाओं के साथ पुनर्स्थापित किया जाए।

पायलट प्रोजेक्ट के तहत की जाएगी इंटेलीजेंट ट्रैफिक सिस्टम की शुरूआत

जिले की ट्रैफिक व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए पायलट प्रोजेक्ट के तहत इंटेलीजेंट ट्रैफिक सिस्टम की शुरूआत की जाएगी। इसके तहत जिला मुख्यालय में सॉफ्टवेयर के माध्यम से यातायात नियंत्रण, सूचनाओं का संग्रहण करने के लिए कार्य योजना तैयार की गई है। इसके विकसित होने से जिला कंट्रोल रूम से ही यातायात व्यवस्था के संबंध में आवश्यक सूचना उपलब्ध हो सकेगी। सूचना के आधार पर ट्रैफिक व्यवस्था के साथ-साथ विधि व्यवस्था की समस्या का भी समाधान त्वरित रूप से किया जा सकेगा।

स्मार्ट वॉटर मैनेजमेंट सिस्टम होगी लागू

पेयजल आपूर्ति की समस्या से निजात दिलाने के लिए स्मार्ट वॉटर मैनेजमेंट सिस्टम लागू की जाएगी। इस योजना से सेंट्रल कंट्रोल रूम से ही सॉफ्टवेयर के माध्यम से पेयजल आपूर्ति से संबंधित सूचना प्राप्त होगी। जिससे यह पता चलेगा कि किस स्थान पर किस तरह की समस्या है। सिस्टम के विकसित होने से समय पूर्व जलापूर्ति बाधित होने से संबंधित समस्या का समाधान हो सकेगा।

स्वास्थ्य एवं शिक्षा के लिए तैयार है विजन प्लान डोक्युमेंट

जिले में स्वास्थ्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता युक्त सुधार करने के लिए दोनों विभाग का विजन प्लान डॉक्यूमेंट तैयार किया गया है। इसे स्वास्थ्य इकाइयों के आधारभूत संरचना के गुणात्मक वृद्धि एवं शैक्षणिक संस्थानों के द्वारा गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए विभिन्न विभागों के पदाधिकारियों के सहयोग से तैयार किया गया है। इसका लोकार्पण शीघ्र किया जाएगा। लोकार्पण के बाद त्वरित कार्यान्वयन हेतु कार्रवाई की जाएगी।

ई-समाधान पोर्टल पर 78% शिकायतों का निराकरण

जिले के लोगों की समस्याओं का त्वरित एवं पारदर्शी तरीके से निष्पादन करने के लिए विकसित की गई ई-समाधान पोर्टल में अब तक 2134 शिकायतें दर्ज हुई है। इसमें से 1673 मामलों (78%) का निष्पादन किया जा चुका। पोर्टल में प्राप्त शिकायतों की हर 15 दिन पर समीक्षा की जाती है और इसका रिपोर्ट कार्ड भी जारी किया जाता है। शिकायतों को त्वरित निष्पादित करने वाले पदाधिकारियों को प्रोत्साहित भी किया जाता है।

अपने संबोधन में उपायुक्त ने वैश्विक महामारी के दौरान एकजुट होकर कोरोना को हराने में अहम भूमिका निभाने वाले पारा चिकित्सा कर्मी, सफाई कर्मी, एंबुलेंस चालक, वीएलई, चिकित्सा पदाधिकारी, पुलिस बल, पुलिस पदाधिकारी, जिला प्रशासन के पदाधिकारियों सहित सभी कोरोना वारियर्स के प्रति आभार प्रकट किया।

साथ ही बताया कि कोरोना काल के दौरान 5,39,505 लोगों को निशुल्क गैस रिफिलिंग, 114 विशिष्ट दाल भात केंद्र के माध्यम से 2 लाख जरूरतमंदों को निशुल्क भोजन, मुद्रा योजना के तहत 13536 लाभुकों को 47.38 करोड़ का ऋण, पीएमईजीपी के तहत 83 व्यक्तियों को 81.20 करोड़ का ऋण, 1,30,358 लाभुकों को डीबीटी के माध्यम से पेंशन राशि का भुगतान, मनरेगा में 33 लाख 61 हजार 776 मानव दिवस का सृजन, चालू वित्त वर्ष में 46050 योजनाओं की स्वीकृति, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत 28004 योजनाओं को पूरा किया, 67584 किसानों को केसीसी से आच्छादित किया।

अपने संबोधन से पूर्व उपायुक्त ने एसएसपी श्री असीम विक्रांत मिंज के साथ परेड का निरीक्षण किया। इसके बाद उपायुक्त ने झंडोत्तोलन किया। झंडोत्तोलन के बाद परेड की सलामी ली। इसके बाद विभिन्न विभागों द्वारा आकर्षक झांकियां निकाली गई। उत्कृष्ट कार्य करने वाले कर्मियों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

कार्यक्रम का संचालन एमेली बसु तथा घनश्याम दुबे ने किया

मुख्य समारोह में उपायुक्त श्री उमा शंकर सिंह, वरीय पुलिस अधीक्षक श्री असीम विक्रांत मिंज, उप विकास आयुक्त श्री दशरथ चंद्र दास, एडीएम लॉ एंड ऑर्डर श्री चंदन कुमार, सिटी एसपी श्री आर रामकुमार, अपर समाहर्ता आपूर्ति श्री संदीप कुमार दोराईबुरू, अपर समाहर्ता श्री श्याम नारायण राम, उप समाहर्ता भूमि सुधार श्री सतीश चंद्रा, अनुमंडल पदाधिकारी श्री सुरेंद्र कुमार, निदेशक एनईपी श्रीमती इंदु रानी, जिला योजना पदाधिकारी श्री महेश भगत, जिला आपूर्ति पदाधिकारी श्री भोगेंद्र ठाकुर, सिविल सर्जन डॉ गोपाल दास, कार्यपालक दंडाधिकारी दीपमाला, श्री अमर प्रसाद, श्री कुमार बंधु कच्छप, श्री सुशांत कुमार मुखर्जी, एनडीसी श्री अनुज बांडो, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी पूर्णिमा कुमारी, रेड क्रॉस सोसायटी के सचिव श्री कौशलेंद्र कुमार, जिला शिक्षा अधीक्षक श्री इंद्रभूषण सिंह, जिला शिक्षा पदाधिकारी श्रीमती प्रबला खेस, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी ईशा खंडेलवाल, डीएमएफटी ऑफिसर श्री शुभम सिंघल, श्री नितिन कुमार, आशा कुजूर, श्री आदित्य बंसल, श्री अनिरुद्ध सोनी, आइटी रेवेन्यू श्री रूपेश मिश्रा, जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकार के श्री संजय कुमार झा सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: