अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास मगरमच्छों का डेरा, सैलानियों के लिए बन सकते हैं खतरा

नेशनल डेस्क:- गुजरात के नर्मदा जिला में ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ के पास एक झील में नौकायान करने आने वाले सैलानियों की सुरक्षा के मद्देनजर पिछले दो साल में झील से 194 मगरमच्छों को निकालकर अन्य स्थानों पर पहुंचाया गया है। अधिकारियों ने रयह जानकारी दी।
अधिकारियों ने बताया कि केवड़िया में सरदार वल्लभ पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा के पास पंचमुली झील स्थित है जो पर्यटकों के बीच आकर्षण का बड़ा केंद्र है, लेकिन झील में काफी संख्या में मगरमच्छ हैं, जो सैलानियों के लिए खतरा बन सकते है। केवड़िया क्षेत्र के वन अधिकारी विक्रमसिंह गभानिया ने बताया कि 2019-20 (अक्टूबर-मार्च) में हमने 143 मगरमच्छों को यहां से दूसरी जगह पहुंचाया। 2020-21 में 51 और मगरमच्छों को गांधीनगर और गोधरा में दो बचाव केंद्रों में भेजा गया है। लेकिन अब भी काफी तादाद में मगरमच्छ मौजूद हैं। अधिकारियों ने बताया कि 2019-20 में बचाये गये 73 मगरमच्छों को सरदार सरोवर जलाशय में छोड़ा गया। झील से निकाले गये मगरमच्छों को बाद में पंचमहल जिले के गोधरा और गांधीनगर स्थित बचाव केंद्रों में भेजा गया। ‘मगरमच्छों को पकड़ने के लिए करीब 60 जाल बिछाये गये हैं। झील के जिस हिस्से में सीप्लेन (पानी से उड़ने व उतरने वाले जहाज) का परिचालन होता है (अहमदाबाद से केवड़िया के बीच), वह पूरी तरह सुरक्षित है।’’ राज्य पर्यटन विभाग के अनुसार 2019 में गुजरात राज्य वन विकास निगम लिमिटेड (जीएसएफ डीसी) ने स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास पंचमुली झील में नौकायान की शुरुआत की। स्टैच्यू ऑफ यूनिटी प्राधिकरण के एक प्रवक्ता ने बताया कि क्षेत्र में नौकायान पर्यटकों के बीच आकर्षण का बड़ा केंद्र है और खासकर सप्ताहांत में यहां भारी भीड़ रहती है।

%d bloggers like this: