June 14, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

ओडिशा में कोरोना वायरस के मामले आठ लाख के पार, 2952 की मौत

भुवनेश्वर:- ओडिशा में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के 7,395 नये मामले आने के बाद संक्रमितों की संख्या शनिवार को आठ लाख के आंकड़े को पार कर गयी। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के सूत्रों ने बताया कि नये मामले राज्य के 30 जिलों से दर्ज किये गये हैं। इनमें क्वारंटीन केद्रों से 4,169 मामले और 3,226 स्थानीय संपर्क के मामले हैं। इसके साथ ही कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 8,06,094 हो गयी है। खोरधा जिले में सबसे अधिक 1,069 मामले दर्ज किए गए तथा इसके बाद कटक में 868, जाजपुर में 516, अंगुल में 443 और मयूरभंज में 384 मामले सामने आये। राज्य के कम से कम सात जिलों में 300 से अधिक सकारात्मक मामले दर्ज किए गए हैं जबकि छह जिलों में 200-300 और नौ जिलों में 100 से 200 नए मामले दर्ज किए गए हैं। पिछले 24 घंटों में आठ जिलों में 100 से कम नए संक्रमण मामले सामने आए हैं। सकारात्मक मामले पिछले सात दिनों में कमी दर्ज की गयी है और 29 मई को 9,541 से घटकर चार जून को 7,495 हो गए हैं। राज्य में कोरोना सकारात्मकता दर 10.51 फीसदी रह गयी है। इस दौरान राज्य के विभिन्न हिस्सों में 40 और कोरोना मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 2952 पहुंच गया। नये मामलों की तुलना में रोजाना स्वस्थ होने वालों की संख्या में पिछले 13 दिनों से लगातार वृद्धि दर्ज की गयी। इस दौरान 11,347 और लोगों के स्वस्थ होने से राज्य में संक्रमण मुक्त लोगों की संख्या बढ़कर 7,24,402 हो गयी है। राज्य में सक्रिय मामलों की संख्या अब 78,682 रह गयी है जिनका विभिन्न स्थानों पर इलाज किया जा रहा है। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शुक्रवार को उच्च माध्यमिक शिक्षा परिषद (सीएचएसई) द्वारा इस वर्ष आयोजित की जाने वाली बारहवीं की परीक्षाओं को रद्द करने की घोषणा की। राज्य में कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के मद्देनजर बोर्ड की परीक्षाओं को रद्द करने का निर्णय लिया गया है। श्री पटनायक ने कहा कि छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों की स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बारहवीं की परीक्षाओं को रद्द करने का फैसला लिया गया है। उन्होंने कहा कि छात्रों का जीवन अन्य सभी चीजों से ज्यादा महत्वपूर्ण है। अगर जीवन सुरक्षित रहा तो आगे असीमित अवसर मिलेंगे और तभी समाज और सभ्यता आगे बढ़ सकती है। उन्हाेंने कहा कि छात्र हमारे देश और राष्ट्र का भविष्य हैं और हमारे छात्रों की स्वास्थ्य सुरक्षा परीक्षा से अधिक महत्वपूर्ण है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: