May 8, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोरोना के इस जंग में सभी निजी अस्पतालों व चिकित्सकों का सहयोग आपेक्षितः-उपायुक्त

देवघर:- देवघर जिले में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले को देखते हुए उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री की अध्यक्षता में कोविड-19 के रोकथाम और संक्रमित व्यक्तियों के स्वास्थ्य संबंधी तैयारियों को लेकर आज निजी अस्पताल के प्रबंधकों व प्रतिनिधियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग का आयोजन गोपनीय कार्यालय कक्ष में आयोजित की गयी। इस दौरान उपायुक्त ने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार के निर्देशानुसार कोरोना की दूसरी लहर के बढ़ते खतरे को देखते हुए सरकारी अस्पताल के अलावा निजी चिकित्सालयों में निजी अस्पतालों को 10 से 25 जेनरल बेड और आईसीयू में भी 10 से 25 बेड आरक्षित रखने का निदेश दिया गया। साथ हीं कोरोना संक्रमित मरीजों की सुविधा हेतु आवश्यक व्यवस्थाओं के अलावा ऑक्सिजन, आईसीयू, बेड, वैंडिलेटर एवं पारा मेडिकल स्टॉफ चिकित्सकों की सूची उपायुक्त कार्यालय को उपलब्ध कराने की बात कही, ताकि आवश्यकतानुसार उपलब्ध संसाधनों का सही तरीके से उपयोग किया जा सके।
इसके अलावे बैठक के दौरान उपायुक्त मंजूनाथ भजंत्री द्वारा जानकारी दी गयी कि मरीजों का उपचार राज्य सरकार द्वारा निर्धारित दरों एवं शर्तों पर ही किया जाएगा। परंतु यह भी देखना अत्यंत आवश्यक है कि मरीज की सुरक्षा एवं उसके इलाज में किसी प्रकार का कोई समझौता न हो। ऐसे में सभी अस्पताल प्रबंधकों अपने स्तर से आंतरिक संसाधनों को मोबिलाइज करें एवं मरीजों के उचित इलाज की व्यवस्था सुनिश्चित करें। साथ ही निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन कर उपकरण, दवाई तथा अन्य सामग्रियों की उपलब्धता अपने अस्पतालों में सुनिश्चित करें। आगे उपायुक्त ने कहा कि वर्तमान में देवघर जिला अन्तर्गत कोविड संक्रमित व्यक्तियों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है, जिसके कारण पुराने सदर अस्पताल (कोविड केयर सेन्टर) के सभी बेड कोविड संक्रमित मरीजों से पूर्णतः भर चुका है। जल्द हीं जिला प्रशासन द्वारा दूसरा कोविड केयर सेन्टर चिन्ह्त किया जार रहा है, ताकि संक्रमित मरीजों को किसी प्रकार की समस्याओं का सामना न करना पड़े। ऐसे में आने वाले दिनों में सभी चयनित निजी अस्पतालों में संक्रमित मरीजों को उपचार हेतु भर्ती किया जा सकता है, जिसको लेकर आवश्यक तैयारियों के अलावा आईसोलेशन वार्ड और कोविड संक्रमित मरीजों के आवागमन हेतु अलग से इंट्री व एग्जीट की व्यवस्था जल्द से जल्द सुनिश्चित कर लें।
बैठक में उपरोक्त के अलावे आपदा प्रबंधन पदाधिकारी राजीव कुमार, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रवि कुमार, डीआईओ एबी रॉय, डॉक्टर मनीष, सहायक जनसंपर्क पदाधिकारी रोहित कुमार विद्यार्थी, डीपीएम नीरज कुमार, विभिन्न निजी अस्पताल के प्रबंधक प्रतिनिधि एवं संबंधित विभाग के अधिकारी, चिकित्सकआदि उपस्थित थे।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: