March 3, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मंत्री रामेश्वर उरांव की ओर से कांग्रेस नेताओं ने पारा शिक्षकों की बात सुनी

रांची:- पारा शिक्षकों द्वारा वादा निभाओ कार्यक्रम के तहत सत्तापक्ष के विधायकों एवं मंत्रियों की आवास पर धरना कार्यक्रम के मद्देनजर आज 6 जिलों के हजारों पारा शिक्षकों ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सह वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव के बरियातू स्थित आवास पर धरना दिया।डॉ रामेश्वर उरांव के तरफ से प्रदेश कांग्रेस कमेटी का तीन सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोर नाथ शाहदेव एवं डॉ राजेश गुप्ता छोटू पारा शिक्षकों के धरना स्थल पर पहुंचकर उनसे वार्ता की, उनकी बातें सुनी एवं ज्ञापन लिया एवं साथ ही साथ प्रदेश अध्यक्ष सह वित्त मंत्री का संदेश भी उन्हें दिया।
पारा शिक्षकों की ओर से मनोज यादव विमलेश महतो एवं मोहम्मद शकील ने कहा कि 65 हजार पारा शिक्षकों के स्थायीकरण व वेतनमान की मांग को लेकर हम सरकार का ध्यान आकृष्ट करा रहे हैं, गठबंधन की सरकार हमारी सरकार है जो संवेदनशील है। गठबंधन के सभी साथियों ने घोषणा पत्र में पारा शिक्षकों के स्थायीकरण एवं मानदेय में वृद्धि का वादा सरकार बनते ही पूरा करने की बात कही थी जिसे हम याद दिलाने आए हैं,पारा शिक्षकों ने कहा कोरोनावायरस के कारण 500 से अधिक पारा शिक्षकों की जाने चली गई हैं जिनके परिजनों का सुध लेने वाला कोई नहीं है, सेवानिवृत्ति के बाद हमारी स्थिति का आकलन नहीं किया गया है,20 वर्षों से हम झारखंड के बच्चों को शिक्षित कर रहे हैं, अब हमारी उम्र भी नहीं है कि हम दूसरा कोई काम कर सके, ऐसे में हमारी सरकार अविलंब हमारी समस्याओं का समाधान करे। वादा पूरा करो अभियान कार्यक्रम का मकसद सरकार का विरोध नहीं बल्कि सरकार के संज्ञान में समस्याओं को लाना है।
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोर नाथ शाहदेव एवं डा राजेश गुप्ता छोटू ने हजारों की संख्या में मौजूद पारा शिक्षकों को आश्वस्त करते हुए कहा कि उनकी सरकार पूरी तरह से पारा शिक्षकों के साथ खड़ी है, विभागीय मंत्री जगन्नाथ महतो के बीमार होने की वजह से निर्णय में देर हुए हैं और कोरोना महामारी के कारण भी परेशानियां हुई है लेकिन अब सरकार पूरी तरह से समस्या के समाधान के लिए प्रयासरत है, मुख्यमंत्री की व्यस्तता के बावजूद पारा शिक्षकों की प्रतिनिधिमंडल से उन्होंने मुलाकात की और उनकी मांगों पर सहानुभूति पूर्वक विचार किए जाने का भरोसा दिलाया है। वित्त मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने स्पष्ट किया है कि जल्द ही पारा शिक्षकों की समस्याओं का निदान होगा, प्रतिनिधिमंडल ने पारा शिक्षकों को आश्वस्त किया कि फरवरी महीने में कुछ ना कुछ समाधान निकलने की पूरी संभावना है।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: