अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हर हाल में राजस्व वसूली का लक्ष्य पूरा करेंः उपायुक्त,राजस्व वसूली में लापरवाही बर्दाश्त नहीं

मेदिनीनगर:- पलामू जिले के उपायुक्त शशि रंजन ने बुधवार को राजस्व से जुड़े सभी विभागों को राजस्व संग्रहण में तेजी लाने का निर्देश दिया।उपायुक्त ने कहा कि इसमें कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया कि राजस्व उगाही में सभी रुकावटों को दूर करते हुए लक्ष्य के प्रति केंद्रित रहें।उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार विभागों के राजस्व वसूलने के लिए लगातार मॉनिटरिंग कर रही है।ऐसे में संबंधित अधिकारी अपने अपने राजस्व वसूलने के लिए किसी प्रकार की लापरवाही न बरतें।उन्होंने कहा कि राजस्व संग्रहण जिले की कार्यप्रणाली का अहम हिस्सा है।इस कार्य में पारदर्शिता आवश्यक है,उन्होंने पदाधिकारियों को लोगों को कर भुगतान करने के लिए प्रेरित करने का निर्देश दिया।उपायुक्त श्री रंजन समाहरणालय के सभाकक्ष में राजस्व संग्रहण की वर्तमान स्थिति पर विभागीय प्रमुखों के साथ समीक्षा बैठक कर रहे थे।
उपायुक्त ने खनन विभाग की समीक्षा करते हुए लक्ष्य के विरुद्ध कम राजस्व वसूली के कारणों से अवगत हुए।इस दौरान उन्होंने जिला खनन पदाधिकारी को खनन के क्षेत्र में राजस्व वसूली में तेजी लाने की बात कही।उन्होंने राजस्व उगाही को लेकर कहा कि इसमें जो भी कारक बाधक हैं,उन्हें यथाशीघ्र दूर कर लक्ष्य प्राप्त करें।
इसी तरह वाणिज्य कर विभाग की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने पाया कि वाणिज्य कर विभाग को 163 करोड़ रुपये की वसूली का लक्ष्य दिया गया था।जिसके विरुद्ध वाणिज्य कर विभाग द्वारा अबतक 23 करोड़ 28 लाख रुपये की राजस्व वसूली कर ली गयी है।इस दौरान कम राजस्व वसूली होने के कारणों की समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने तेजी लाने का निर्देश दिया।
उत्पाद विभाग की समीक्षा के दौरान उत्पाद अधीक्षक ने उपायुक्त को बताया कि उत्पाद विभाग को 129 करोड़ वसूली का वार्षिक लक्ष्य दिया गया था जिसके विरुद्ध 24 करोड़ की राजस्व वसूली कर ली गयी है।इस दौरान उपायुक्त ने उत्पाद अधीक्षक से कम राजस्व वसूली होने का कारणों से अवगत हुए साथ ही इसे कैसे बढ़ाया जाये इसपर भी चर्चा की।इस दौरान उपायुक्त ने अवैध महुआ शराब दुकानदारों के खिलाफ लगातार छापामारी करते रहने का निर्देश दिया खासकर उन्होंने बॉर्डर एरिया में फोकस करने की बात कही। इसी तरह अवर निबंधन,परिवहन विभाग,राष्ट्रीय बचत विभाग,नगर निगम,विद्युत आपूर्ति विभाग की भी समीक्षा की गयी।
राजस्व संग्रहण की समीक्षा के पश्चात उपायुक्त श्री रंजन ने भूमि सुधार से संबंधित कार्यों की समीक्षा की।इस दौरान उन्होंने विभिन्न अंचल अधिकारियों को पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के तहत प्रारंभ होने वाली योजनाओं हेतु ज़मीन आवंटन करने में तेज़ी लाने की बात कही।इसके अलावा उन्होंने अंचलाधिकारियों को मोटर ड्राइविंग ट्रेनिंग स्कूल हेतु भी ज़मीन चिन्हित करने का निर्देश दिया।
इसके अलावा बैठक में पुलिस अधीक्षक चंदन कुमार सिंहा ने सभी अंचलाधिकारियों से ज़मीन संबंधित विवादों को संबंधित थाना प्रभारी से मिलकर स्थानीय स्तर पर ही निपटारा करने हेतु उचित कार्रवाई करने की बात कही।उन्होंने कहा कि जमीन से जुड़े कई ऐसे मामले हैं जिन्हें स्थानीय स्तर पर ही त्वरित रूप से सुलझाया जा सकता है ऐसे में जरूरत है कि थाना प्रभारी और संबंधित अंचल अधिकारी बेहतर समन्वय स्थापित कर जमीन से जुड़े विवादों को थाना एवं अंचल स्तर पर ही निष्पादन करें।
बैठक में उपायुक्त शशि रंजन के अलावा पुलिस अधीक्षक चंदन कुमार सिन्हा,अपर समाहर्ता सुरजीत कुमार सिंह,हुसैनाबाद अनुमंडल पदाधिकारी कमलेश्वर नारायण,अपर समाहर्ता भूमि सुधार अमित प्रकाश,जिला खनन पदाधिकारी संजीव कुमार,सभी अंचल अधिकारी समेत अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

%d bloggers like this: