अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सैटेलाइट तस्वीरों से भारत के खिलाफ चीन की नई साजिश का पर्दाफाश; पेंगॉन्ग के पास बनाए पक्के निर्माण, बसाया अड्डा


लद्दाख:- चीन की भारत के खिलाफ की नई साजिश का खुलासा हुआ है। चीन ने लद्दाख में पेंगॉन्ग झील पर भारत संग समझौते के बावजूद उससे सटे इलाके में पक्का निर्माण कर लिया है। इसके अलावा चीन ने वहां हेलीपैड भी तैयार किया है। यह खुलासा सैटेलाइट तस्वीरों से हुआ है। ये सैटेलाइट तस्वीरें अमेरिका के फॉरन पॉलिसी मैगजीन के लिए काम करने वाले जैक डिट्च नाम के एक पत्रकार ने पोस्ट की हैं । कुछ तस्वीरें सामने आई हैं जो पेंगॉन्ग झील के उत्तरी किनारे की हैं। इसमें चीनी जेटी (बोट), संभावित हेलीपैड और स्थाई बंकर दिखाई दे रहे हैं।
पेंगॉन्ग झील की फिंगर 8 वाला इलाका गतिरोध के पहले से ही चीन के कंट्रोल में है। अब मई 2020 में गतिरोध के बाद जब चीजें सामान्य होनी शुरू हुईं तो भारतीय और चीनी सेना इस बात पर राजी हुई थी कि पेंगॉन्ग के उत्तरी और दक्षिणी किनारे से सेनाओं को वापस पीछे भेजा जाएगा। इसमें फिंगर 4 से फिंगर 8 तक का इलाका शामिल था। माना जा रहा है कि चीन ने अब चालाकी दिखाई है।जिस हिस्से के लिए समझौता हुआ था, उससे ठीक सटाकर चीन ने यह स्थाई निर्माण कर लिया है। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब चीन की हरकतों को लेकर इस तरह का खुलासा हुआ है।
इससे पहले भी नवंबर में अमेरिकी रक्षा विभाग पेंटागन की रिपोर्ट ने भी दावा किया था कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश में बड़ा सा गांव बसा लिया है। रिपोर्ट में दावा किया गया था कि चीन ने ये गांव अभी नहीं, बल्कि सालों पहले ही बना लिए थे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इसके पहले सेना से जुड़े सूत्रों ने भी बताया था कि चीन ने पूर्वी लद्दाख में एलएसी के पास मिसाइल और रॉकेट रेजिमेंट की तैनाती कर दी है।
इसके अलावा हाइवे और सड़कों पर भी तेजी से काम कर रहा है। सूत्रों ने बताया था कि अक्साई चीन इलाके में चीन हाइवे बना रहा है, ताकि उसकी कनेक्टिविटी मजबूत हो सके और एलएसी पर ज्यादा तेजी से पहुंचा जा सके। चीन न सिर्फ अपने एयरबेस को अपग्रेड कर रहा है, बल्कि उसने हाइवे को चौड़ा करने और एयर स्ट्रिप बनाने का काम भी शुरू कर दिया है।

%d bloggers like this: