अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बारिश और ओलावृष्टि की संभावना, मौसम विभाग ने किया अलर्ट


दो दिनों बाद तापमान में आएगी गिरावट,
रांची:- बदले मौसम के बीच एक बार फिर राजधानी रांची समेत आसपास के क्षेत्रों में बारिश के साथ ओलावृष्टि की भी संभावना है। आज सुबह से आसमान में बादल छाए रहने के कारण ठंड बढ़ गई। लोगों को पूरा दिन गर्म कपड़ों का सहारा लेना पड़ा। मौसम विभाग केंद्र के अनुसार आज राज्य के दक्षिणी हिस्सों में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होने की संभावना जताई है। इसको लेकर मौसम विभाग ने अलर्ट जारी किया है। पिछले 24 घंटो में रांची और इसके आसपास के क्षेत्रों में 23.6 मिमी बारिश रिकार्ड की गई है। वहीं मांडर में 22 मिमी बारिश रिकार्ड की गई है। सूबे में पश्चिमी विक्षोभ का असर फिलहाल देखने को मिलेगा। हालांकि आने वाले दिनों में मौसम सुहावना और साफ रहेगा। आज राज्य के दक्षिणी क्षेत्रों में एकाध जगहों पर बारिश की संभावना है। बाकी जगहों पर मौसम शुष्क और सामान्य बना रहेगा। कल और 16 व 17 जनवरी को मौसम शुष्क रहेगा। दो दिनों तक न्यूनतम तापमान में कोई बदलाव देखने को नहीं मिलेगा। इसके बाद तापमान में 2-4 डिग्री सेल्सियस गिरावट होने की आशंका है। मौसम विभाग के अनुसार अगले दो से तीन दिनों तक हल्के से मध्यम दर्जे का कोहरा छाया रहेगा। सबसे अधिक तापमान 25.4 डिग्री सेल्सियस गोड्डा का रहा जबकि सबसे कम तापमान 11.6 डिग्री रांची और गढ़वा का दर्ज किया गया। अगले दो दिनों तक तापमान में भी 2-4 डिग्री सेल्सियस कम रहने की संभावना है। साथ ही सूबे के सभी हिस्सों में दो दिनों तक सुबह में कोहरा व धुंध रहने की संभावना है। मौसम विभाग ने बताया कि रांची और आसपास के क्षेत्रों में आज सामान्य बादल छाए रहेंगे। अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम 11 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। 15 जनवरी को सुबह में कोहरे की धुंध और बाद में आसमान साफ रहेगा। अधिकतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। 16 जनवरी को भी सुबह में कोहरा व धुंध छाया रहेगा बाद में आसमान साफ रहेगा। अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। 17 जनवरी को सुबह में कोहरा व धुंध छाया रहेगा बाद में आसमान साफ रहेगा। अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम 10 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

%d bloggers like this: