May 12, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कलश स्थापना के साथ चैती नवरात्र आज से

रांची:- कलश स्थापना के साथ कल से चैती नवरात्र की शुरुआत हो जाएगी। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के कारण जहां आम जनजीवन प्रभावित होने लगा है, वही एक बार फिर चैती नवरात्र और उसके उपलक्ष्य में लगने वाले मेले पर भी ग्रहण लग गया है।
कोडरमा के गोमो स्थित दुर्गा मंदिर में चैती दुर्गा पूजा को लेकर व्यापक तौर पर तैयारी की जा रही थी लेकिन एक बार फिर कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए पूजा समिति ने सिर्फ विधि विधान से पूजा करने का निर्णय लिया है। जबकि इस मौके पर किसी तरह के मेले और जलसे का आयोजन नहीं किया जाएगा।समिति के सदस्य अभिषेक सिंह ने बताया कि सरकार की गाइडलाइंस के अनुसार चैती नवरात्र मनाया जाएगा
पिछले साल भी कोरोना वायरस के कारण चैती नवरात्र और इसके उपलक्ष्य मे लगने वाले दुर्गा पूजा मेला प्रभावित हुआ था। पूजा समिति की ओर से विधि विधान से पूजा को लेकर तैयारियां पूरी कर ली गई है, इसके अलावा मेला में किसी तरह की भीड़ ना लगे इसके लिए भी पूजा समिति की ओर से व्यापक इंतजाम किए गए हैं।
गौरतलब है कि साल 1940 से लगातार कोडरमा के गुमो के इस मंदिर में चैती नवरात्र और दुर्गा पूजा मेला का आयोजन किया जाता रहा है। पिछले 2 सालों से मेला नहीं लगने से समिति के लोगों को निराशा जरूर लगी है लेकिन कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ नहीं किया जा सकता है, इसी मद्देनजर समिति की ओर से इस बार सिर्फ मां दुर्गा की प्रतिमा स्थापित कर पूजा अर्चना की जाएगी और जो भी भक्त आएंगे उन्हें कोविड के निर्देश का अनुपालन करना पड़ेगा।
इस दुर्गा मंदिर के आसपास शिव मंदिर, देवी मंदिर और हनुमान मंदिर भी है ऐसे में आसपास के इलाके में चैती नवरात्र के मौके पर यह श्रद्धा और भक्ति का महत्वपूर्ण केंद्र माना जाता है, और हर साल यहां लाखों भक्त आते हैं और मां दुर्गा की पूजा-अर्चना के साथ लगने वाले मेले का आनंद लेते हैं.

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: