अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

यमुना को प्रदूषण मुक्त करने के लिये केन्द्र सरकार गंभीर: शेखावत


मथुरा:- केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा कि यमुना को प्रदूषण मुक्त करने की दिशा में केन्द्र सरकार गंभीर है। उन्होने अपने विभाग के अधिकारियों से कहा कि इस दिशा में प्रदेश सरकार ने जो भी प्रस्ताव भेजे हैं, उन पर तेजी से अमल किया जाना चाहिए। स्थानीय सांसद हेमामालिनी ने शुक्रवार को बताया कि उन्होने श्री शेखावत को मथुरा में यमुना के प्रदूषण से अवगत कराया। उन्होने केन्द्रीय मंत्री को यह भी बताया कि विभिन्न संस्थाओं द्वारा इस दिशा में न केवल आंदोलन किये जा रहे हैं बल्कि एक संस्था की ओर से तो भूख हड़ताल करने की भी घोषणा कर दी गई है। मालिनी का यह भी कहना था कि भूख हड़ंताल करनेवाले संगठन से उन्होंने इसलिए भूख हड़ताल रोकने को कहा है कि केन्द्र सरकार ने नमामि गंगे कार्यक्रम में पहले ही कार्य शुरू कर दिया है तथा वे यमुना में गिरनेवाले नालों को रोकने की दिशा में भेजे प्रस्तावों पर अमल करने का अनुरोध केन्द्रीय जल शक्ति मंत्री से करेंगी। मालिनी ने मंत्री को यह भी बताया कि कोसी ड्रेन में न केवल कोसी, छाता वृन्दावन, वृन्दावन के सुनरख गांव एवं मथुरा,का घरेलू कचरा गिर रहा है बल्कि छाता और कोसी के औद्योगिक क्षेत्र का भी कचरा गिर रहा है। कुल 21 नाले आज भी यमुना में सीधे गिर रहे हैं। इनका यमुना में गिरना रोकने के लिए प्रोविजनल फिजिबिलिटी रिपोर्ट भी भेजी जा चुकी है। इस पर वहां मौजूद जल शक्ति विभाग के अधिकारियों ने जब यह कहा कि फिजिबिलिटी रिपोर्ट ठीक नहीं है तो सांसद ने मंत्री से कहा कि जब तक कमियों को संबंधित विभाग को बताया नहीं जाएगा, तब तक कार्य कैसे शुरू होगा। इसके बाद केन्द्रीय मंत्री शेखावत ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि इस काम में अब और समय बर्बाद नही किया जाना चाहिए तथा सारी औपचारिकता अति शीघ्र पूरी कर काम शुरू करने का मार्ग प्रशस्त किया जाना चाहिए।

%d bloggers like this: