कोरोना महामारी और प्रवासी मज़दूरों का दर्द

सम्पादक की कलम से कोरोना महामारी ने समाज के हर आयाम बदल दिए हैं। कुछ लोगो के लिए यह तालाबंदी परिवार के साथ समय बिताने का अवसर…… Read more “कोरोना महामारी और प्रवासी मज़दूरों का दर्द”

दिल्ली हिंसा के मध्य उम्मीद जगाती ये कविता

दिल्ली हिंसा भारतीय धर्मनिरपेक्षता, आपसी सौहार्द और देश के मूल्यों पर एक ऐसा धब्बा बन लगा है जिसे मिटाया नहीं जा सकता। ऐसे मुश्किल वक़्त में ज़रूरी…… Read more “दिल्ली हिंसा के मध्य उम्मीद जगाती ये कविता”

बिहार की वर्तमान स्थिति को दर्शाती यह मार्मिक कविता

घर के चारो तरफ है पानी भरा एक दीवार है जो उसको कई दिनों से रोके खड़ापानी भी कोई साफ नहीं उसमें भी है बहुत कचड़ा पड़ा  एक…… Read more “बिहार की वर्तमान स्थिति को दर्शाती यह मार्मिक कविता”

30 मई हिन्दी पत्रकारिता दिवस, की सुरुआत ।

हिंदी भाषा में ‘उदन्त मार्तण्ड’ के नाम से पहला समाचार पत्र आज के ही दिन 30 मई 1826 में प्रकाशित किया गया था। इसलिए इस दिन को…… Read more “30 मई हिन्दी पत्रकारिता दिवस, की सुरुआत ।”

सारे आतंकवादी मुसलमान क्यों होते हैं ?

सारे आतंकवादी मुसलमान क्यों होते हैं ? ये सवाल पुछ पुछ कर आपसी सोहार्द ना खोएं । पहली बात ये समझ लिजिए की हर एक मुस्लिम आतंकवादी…… Read more “सारे आतंकवादी मुसलमान क्यों होते हैं ?”