May 16, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बिशप एवं पादरियों के द्वारा दायर मामला खारिज

किशनगंज 16 अप्रैल:- बिशप एवं पादरियों के द्वारा पूर्णियां न्यायालय में वर्ष 2004 में दायर वाद सं. 96/2004 को पूर्णियां सब जज सह सीजेएम अनिल कुमार ठाकुर ने खारिज करते हुए तीन लाख रूपया बतौर मुकदमा खर्च अधिवक्ता डाॅ साजी वर्गीस को देने का आदेश दिया है।
मंगलवार को इस संबंध में डाॅ वर्गीस ने कहा कि सच्चाई की जीत हुई है।पुर्णियां केथोलिक डयाशिस बिशप विन्सेंट बरूआ ,किशनगंज सेंट जेवियर स्कूल के प्रिंसिपल पादरी फूलजेम्स टोपनो तथा रोविन कुलू ने डाॅ वर्गीस के विरूद्ध पुर्णियां में मानहानि का वाद दायर कर पांच लाख रूपये की मांग की गयी थी।
इस संबंध में सब जज माननीय ठाकूर ने 18 मार्च 2021 को बिशप व पादरियों के वाद को खारिज करते हुए अपने आदेश में लिखा है कि बाइबिल में जीसस ने बहुत अच्छी-अच्छी बातें कहीं है और बिशप, पादरियों सहित सभी ईसाइयों से उसके अनुरूप चलने की अपेक्षा की जाती है। उन्होंने कहा कि डाॅ वर्गीस के विरूद्ध किया गया अन्य मामले माननीय उच्च न्यायालय के द्वारा खारिज करने के बावजूद 17 सालों से बिना किसी आधार के पूर्णियां
आकर उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ा जबकि वे किशनगंज निवासी हैं।
उल्लेखनीय है कि वर्ष 2003 में डाॅ वर्गीस ने तत्कालीन जिला पदाधिकारी सेंथिल कुमार किशनगंज को आवेदन देकर गरीब आदिवासी लंड़की के अपहरण के संबंध में जांच कर उचित कार्रवाई की गुहार लगाई गयी थी। मामले में तत्कालीन जिलाधिकारी के निर्देश पर तत्कालीन कार्यपालक डंडाधिकारी संजय कुमार उपाध्याय ने जांच में मामले को सही पाकर सदर थाना कांड संख्या 265/2003 दर्ज कराई थी। किशनगंज सीजेएम ने इस मामले में अभियुक्त के विरुद्ध संज्ञान लेकर गिरफ्तारी वारन्ट निर्गत किया था।इसी मामले को दबाने को लेकर बिशप विसेंट बरूआ एवं पादरियों ने अपने रसूख के बल पर डाॅ वर्गीस के विरुद्ध कई तरह के मुकदमो में फसाने की साजिश रची गयी थी।इस संदर्भ में संज्ञान लेकर केथोलिक पोप ने वर्ष 2004 को ही बिशप विन्सेंट बरूआ को पूर्णियां बिशप के पद से मुक्त कर दिया था। वही माननीय पटना उच्य न्यायालय ने सब जज तृतीय सह सीजेएम अनिल कुमार ठाकुर को अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश के पद पदोन्नति देकर पुर्णियां में एडीजे के पद पर नियुक्त किया है।

संवाददाता : सुबोध

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: