अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

राशन नहीं उठाने वाले झारखंड के चार लाख लोगों का कार्ड होगा रद्द – रामेश्वर


रांची:- झारखंड के वित्त व खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ रामेश्वर उरांव ने कहा है कि 4 लाख राशन कार्डधारियों का राशन कार्ड रद्द किया जाएगा। ये वैसे कार्डधारी है जिन्होंने पिछले 8-10 महीने में राशन का उठाव नहीं किया है। डॉ उरांव आज अपने बरियातू स्थित आवास में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में यह बातें कही। मकर संक्रांति के अवसर पर बुलाए गए संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों से बात कर रहे थे। मंत्री ने कहा कि खाद्य आपूर्ति विभाग के द्वारा करीब 4 लाख ऐसे कार्डधारियों को चिंहित किया गया है। जो पिछले 8-10 महीने से राशन का उठाव नहीं कर रहे है। इनका राशन कार्ड निरस्त किया जाएगा। पहले भी विभाग के द्वारा फर्जी और आयोग्य लोगों के करीब एक लाख राशनकार्ड को रद्द किया जा चुका है। एक अन्य प्रश्न के जवाब में मंत्री डॉ उरांव ने कहा कि कोरोना के तीसरे लहर को देखते हुए जीवन और जीविका को आगे बढ़ाना है, जिस कारण आर्थिक गतिविधियां चालू रहेगी। 9 जनवरी को उड़ीसा की अर्थव्यवस्था एवं राजस्व संग्रहण को देखने के लिए जाना था लेकिन कोरोना महामारी की वजह से हम नहीं जा सके। लेकिन हम स्टडी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्य बने 20 साल हो गए है। वित्त मंत्री रहते हुए मैंने महसूस किया कि राजस्व संग्रहण में पूर्व के सरकारों ने ज्यादा ध्यान नहीं दिया। सरकार का उद्देश्य अगर योजनाओं के लिए खर्च करना है तो राजस्व बढ़ाना भी हमारी जिम्मेदारी है। बिहार और उड़ीसा का स्टडी हम कर रहे हैं निश्चित तौर पर राज्य में अपार संभावनाएं हैं जहां राजस्व संग्रहण को आगे बढ़ा सकते हैं। उन्होंने कहा कि पेट्रोल के कीमत को 25 रुपये कम करने को लेकर सरकार मंथन कर रही है। कोरोना लहर के आने के वजह से कई योजनाएं धीमी पड़ जाती। दूसरी लहर में हेमंत सरकार के प्रयासों की देशभर में सराहना हुई है। सरकार कोरोना के बढ़ते प्रभाव पर नियंत्रण भी रखेंगे और आम जनता के लिए योजनाओं को भी क्रियान्वित करेंगे। प्रधानमंत्री जी ने भी कहा है कि अर्थव्यवस्था कमजोर नहीं पड़ने चाहिए। डॉ रामेश्वर उरांव ने राज्य वासियों को मकर संक्रांति, सोहराय और टुसू पर्व की हार्दिक बधाई दी है।

%d bloggers like this: