अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

31 अक्टूबर तक बुजुर्ग जरूर कर लें ये काम, जिंदगी भर खाते में आएंगे 500 रुपये


पटनाः- मुख्यमंत्री वृद्धावस्था पेंशन योजना बिहार के सरकारी पेंशन के लाभार्थी बुजुर्गों के लिए जरूरी खबर है. सभी बुजुर्ग जो कि मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना का लाभ ले रहे हैं, वह सभी इस 31 अक्टूबर 2021 तक जीवन प्रमाणीकरण जरूर करा लें. ऐसा न हो पाने की स्थिति में आपकी पेंशन रुक सकती है.
इसके अलावा नियमित भुगतान भी प्रभावित हो सकता है. इसके अलावा जरूरी है कि सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय विधवा पेंशन योजना, इंदिरा गांधी राष्ट्रीय निःशक्तता पेंशन योजना, लक्ष्मीबाई सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना तथा बिहार निःशक्तता पेंशन योजना के पेंशनधारी भी तय तारीख तक ये कार्य जरूर कर लें.
ऐसे होगा प्रमाणीकरण
मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना के लिए जीवन प्रमाणीकरण कराना अनिवार्य है. अक्टूबर, 2021 के अंत तक प्रमाणीकरण नहीं कराने की स्थिति में उनके पेंशन का नियमित भुगतान प्रभावित हो सकता है. लाभार्थियों की सुविधा को देखते हुए सितंबर से ही प्रमाणीकरण कार्यक्रम जारी है.
पेंशन के लाभार्थी को प्रमाणीकरण करवाने के लिए अपने साथ अपने आधार कार्ड के साथ बैंक खाता संख्या अथवा लाभार्थी संख्या ले जाना जरूरी होगा. पेंशनधारी स्थानीय स्तर पर उपलब्ध कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) या संबंधित प्रखंड कार्यालयों के माध्यम से करवा सकते हैं. कॉमन सर्विस सेंटर पर जीवन प्रमाणीकरण के लिए लाभुक को पांच रुपये शुल्क देनी होगी. जबकि प्रखंड कार्यालय में जीवन प्रमाणीकरण का निःशुल्क किया जा रहा है.
ऐसे भी होगा प्रमाणीकरण
सभी प्रखंड कार्यालयों को सामाजिक सुरक्षा पेंशऩधारियों के जीवन प्रमाणीकरण के लिए बायोमैट्रिक डिवाइस एवं आईरिस स्कैनर डिवाइस उपलब्ध कराया जा चुका है. जिनका बायोमैट्रिक या आईरिस स्कैनर डिवाइस से प्रमाणीकरण नहीं हो सकेगा, उनका भौतिक सत्यापन किया जाएगा. भौतिक सत्यापन की प्रक्रिया के तहत ऐसे लोगों की सभी निजी जानकारी रजिस्टर में दर्ज की जाएगी साथ ही ऐसे मामलों के लिए हर एक पंचायत में भौतिक सत्यापन पंजी भी रखे जाने के लिए निर्देश दिए गए हैं.
यह है मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन स्कीम
इस योजना के लिए बिहार राज्य के स्थाई निवासी जो 60 वर्ष की आयु को पूरा कर चुके हैं, बिहार राज्य के रिटायर्ड सरकारी कर्मचारी इस योजना के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं साथ ही आवेदक अन्य किसी प्रकार की पेंशन / सरकारी योजना का लाभ नहीं ले रहा हो यह भी जरूरी है.

%d bloggers like this: