अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बसपा MP अतुल राय को मुख्तार अंसारी से जान का खतरा, परिजनों ने योगी सरकार से लगाई सुरक्षा की गुहार

वाराणसीः- उत्तर प्रदेश में घोसी से बसपा सांसद अतुल राय को बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी से खतरा होने का आरोप लगाते हुए परिजनों ने सुरक्षा की गुहार लगाई है। साथ ही सांसद पर लगाये गए दुष्कर्म के आरोप की निष्पक्ष विवेचना कराने की मांग की है। वाराणसी कचहरी में प्रेसवार्ता कर सांसद अतुल राय के पिता भरत सिंह, भाई पवन सिंह तथा बहन नम्रता राय ने कहा कि एलआईयू द्वारा मुख्तार अंसारी से जान के खतरे के बाद भी प्रदेश सरकार अतुल राय को सुरक्षा उपलब्ध नहीं करा रही है। साथ ही कहा कि अदालत में पेशी के दौरान अतुल राय पर कभी भी हमला हो सकता है। सांसद के भाई पवन सिंह ने आरोप लगाया कि अतुल राय को सुनियोजित ढंग से फंसाया गया है। उन्होंने दावा किया कि दुष्कर्म और उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली महिला और उसके सहयोगी पर पूर्व में कई मुकदमे दर्ज हैं। फिर भी पुलिस उन पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही। वहीं, सांसद के पिता भरत सिंह ने दावा किया कि मार्च 2020 में वाराणसी के तत्कालीन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने पुनर्विवेचना पत्र और साक्ष्यों के आधार पर पुलिस अधीक्षक नगर वाराणसी और सीओ भेलूपुर से जांच कराई थी, जिसमें आपराधिक साजिश की बात सामने आई थी। उन्होंने कहा कि दोनों ही अधिकारियों ने अग्रिम विवेचना की संस्तुति की थी लेकिन वाराणसी के पुलिस आयुक्त ने अग्रिम विवेचना का आदेश पारित नहीं किया था। उन्होंने पुलिस विभाग से निष्पक्ष विवेचना कराने की मांग की। सांसद की बहन नम्रता राय ने कहा, ”यदि हमें न्याय नहीं मिला तो हम आत्महत्या करने को मजबूर हैं।

%d bloggers like this: