January 25, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

जन्मदिन विशेष:कपिल देव ने पाक के खिलाफ किया था डेब्यू, दाऊद से कहा था- चल बाहर निकल

नई दिल्ली:- भारत को पहला विश्व कप दिलाने वाले कप्तान कपिल देव का आज जन्मदिन है। टीम इंडिया के महान ऑलराउंडर कपिल देव का जन्मदिन 6 जनवरी 1959 को हुआ था। इन्होंने अपने क्रिकेट करियर में अपनी गेंदबाजी के साथ-साथ बल्‍लेबाजी में भी गहरी छाप छोड़ी।

पाकिस्तान के खिलाफ किया था डेब्यू

कपिल ने 17 साल की उम्र में 16 अक्तूबर 1978 को पाकिस्तान के खिलाफ टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू किया। उन्होंने पहले 3 टेस्ट मैचों में 7 विकेट हासिल किए थे। भारत का सबसे तेज अर्धशतक लगाया। इस मैच में उन्होंने 48 गेंदों में 59 रन बनाए थे, जिसमें 8 चौके और 2 छक्के जड़े थे। इतना ही नहीं कपिल देव ने वनडे में भी डेब्यू (एक अक्तूबर 1978) पाकिस्तान के खिलाफ ही किया था।

कपिल की कप्तानी में जीता पहला वर्ल्ड कप

कपिल देव की कप्तानी में भारत ने लॉर्ड्स के मैदान पर 1983 का वर्ल्ड कप जीता था। भारत में उस समय कम टीवी सेट थे और भारत फाइनल में पहुंच चुका था। इस मैच के लिए फैंस काफी उत्साहित थे। कपिल टॉस हारे और वेस्टइंडीज के कप्तान क्लाइव लॉयड ने भारत से पहले बैटिंग करने के लिए कहा। एंडी रॉबर्ट्स ने बिग बर्ड जॉएल गार्नर के साथ गेंदबाज़ी की शुरुआत की और गावस्कर आते ही आउट हो गए।
इसके बाद मोहिंदर और यशपाल शर्मा ने धीमे धीमे 31 रन जोड़े। भारत के 6 विकेट 111 रनों पर गिर गए थे. टीम की हालत पर भारतीय दर्शक निराश थे. आख़िरी 4 विकेटों ने करो या मरो की भावना से 72 रन जोड़े। भारतीय टीम 183 रन बना कर आउट हुई। ये ऐसा स्कोर था कि हर किसी को लग रहा था कि ये मैच एकतरफा होने जा रहा है औऱ वेस्टइंडीज़ आराम से इसे जीत लेगा,वहीं वेस्टइंडीज ने ताबड़तोड़ चौकों की झड़ी लगा दी। तभी कपिल ने रिचर्ड्स का एक ऐसा अविश्वसनीय कैच लिया।जिसने मैच का रुख बदल दिया और भारत पहली बार विश्व विजेता बना था।

दाऊद को लगा दी थी फटकार

ये वाक्य साल 1987 का है। शारजाह में होने वाले भारत-पाकिस्तान मैच से एक दिन पहले प्रैक्टिस सेशन के बाद भारतीय टीम ड्रेसिंग रूम में अपनी रणनीति बना रही थी, तब बॉलीवुड एक्टर महमूद ड्रेसिंग रूम में दाऊद इब्राहिम के साथ वहां आए और खिलाड़ियों से उनका परिचय करवाते हुए कहा कि ये हमारे मित्र हैं और यहीं बिजनेस करते हैं।महमूद ने कहा कि हमारे मित्र आप सभी को एक ऑफर देना चाहते हैं।
इसके बाद दाऊद ने कहा, ‘अगर कल होने वाले मैच में आप पाकिस्तान को हरा देते हैं तो मैं सभी खिलाड़ियों को एक-एक टोयोटा कोरोला कार गिफ्ट करूंगा’। तभी कपिल देव वहां आए और महमूद से बाहर जाने को कहा। दाऊद की ओर इशारा करते हुए भी कहा, ये कौन है, चल बाहर निकल। इसके बाद दाऊद चुपचाप बाहर चला गया। बस, तभी से कपिल देव और दाऊद के बीच हुआ ये वाक्य ‘शारजाह ड्रेसिंग रूम कांड’ के नाम से मशहूर हो गया।

करियर

कपिल देव ने 131 मैचों में 184 पारियों में 5248 रन बनाए। जिसमें 8 शतक शामिल है और वहीं 225 वनडे की 198 पारियों में 3783 रन बनाए, जिसमें 1 शतक शामिल है। कपिल देव ने भारत की ओर से कुल 225 वनडे मैच खेले और इन मैचों में उन्होंने कुल 3783 रन बनाए। इस दौरान उनकी स्ट्राइक रेट 95.07 रही, यानी प्रति 100 गेंद पर 95.07 रन है।

Recent Posts

%d bloggers like this: