अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बिहार : बालू के अवैध खनन मामले में हटाए गए दो एसपी, दो डीटीओ और एक एसडीओ

पटना:- बिहार सरकार ने बालू के अवैध उत्खनन मामले में औरंगाबाद और भोजपुर जिले के पुलिस अधीक्षक (एसपी), दो जिला परिवहन पदाधिकारी (डीटीओ) और एक अनुमंडल पदाधिकारी (एसडीओ) को हटाकर मुख्यालय बुला लिया है।
गृह विभाग की बुधवार को जारी अधिसूचना के अनुसार, औरंगाबाद के एसपी सुधीर कुमार पोरिका और भोजपुर के एसपी राकेश कुमार दुबे को पुलिस मुख्यालय, पटना में योगदान देने को निर्देश दिया गया है। श्री दुबे अश्वारोही विशेष सशस्त्र पुलिस, आरा के अतिरिक्त प्रभार में भी थे।
इसी तरह सामान्य प्रशासन विभाग की अधिसूचना के अनुसार, औरंगाबाद के डीटीओ अनिल कुमार सिन्हा, पटना के डीटीओ पुरुषोत्तम और डेहरी (रोहतास) के एसडीओ सुनील कुमार सिंह को विभाग में वापस बुला लिया गया है। श्री सिन्हा रोहतास के डीटीओ के भी प्रभार में थे।
उल्लेखनीय है कि बालू के अवैध खनन की जांच आर्थिक अपराध इकाई (ईओयू) से कराई गई थी। ईओयू ने अवैध खनन वाले जिलों को चिन्हित करने के बाद वहां तैनात महत्वपूर्ण अधिकारियों की भूमिका की जांच की थी। जांच के दौरान बड़े पैमाने पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी इसमें शामिल पाए गए। ईओयू द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट के आधार पर गृह विभाग ने राजस्व, खनन और परिवहन विभाग के अधिकारियों समेत एसपी, एसडीओ, एसडीपीओ पर कार्रवाई की सिफारिश संबंधित विभागों से की है। माना जा रहा है कि सरकार ने औरंगाबाद, भोजपुर और रोहतास जिले में बालू के अवैध खनन के मामले में इन अधिकारियों पर कार्रवाई की है।

%d bloggers like this: