अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

खूंटी में घटना को अंजाम देने से पहले एक उग्रवादी धराया, दो भागा


रांची:- रांची के कर्रा थाना क्षेत्र के चंदापारा व तुमना के बीच घात लगा कर बैठी पुलिस टीम ने बीती रात कार्रवाई करते हुए पीएलएफआई उग्रवादी संगठन के एक सदस्य को खदेड़ कर धर दबोचा। वहीं पुलिस को देखते ही अंधेरे का फायदा उठा कर दो उग्रवादी मौके से भाग निकले, जिनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापामारी कर रही है। मामले की जानकारी देते हुए खूंटी जिले के पुलिस कप्तान आशुतोष शेखर ने बताया कि कल रात में गुप्त सूचना मिली थी कि हुटार की ओर से एक मोटर साईकिल पर सवार हो कर तीन उग्रवादी किसी घटना को अंजाम देने के लिए चंदापारा होते हुए लोधमा की ओर जाने वाले हैं।
सूचना पर कर्रा थाना प्रभारी मुन्ना सिंह के नेतृत्व में टीम बना कर कार्रवाई करने का आदेश दिया गया था। जिसके फौरन बाद टीम एक्शन में आई और चंदापारा के नजदीक उग्रवादियों के आने का इंतजार करने लगी उसी दौरान रात करीब 12.30 बजे हुटार की ओर से आ रही मोटर साईकिल को रुकने का इशारा किया गया, लेकिन पुलिस को देखते ही बाईक से कूद कर तीन लोग भागने लगे। जिसमें से एक को पुलिस के जवानों ने खदेड़ कर दबोच लिया। तलाशी लेने पर उसके पास से पुलिस को चार गोली, नक्सली पर्चा, रसीद, एक मोबाईल और चोरी कि मोटरसाईकिल हाथ लगी है। गिरफ्त में आया उग्रवादी अपने गिरोह के कई साथियों के नाम व कई घटानाओं में शामिल होने की जानकारी भी पुलिस को दी है।
एसपी शेखर ने बताया कि गिरफ्तार उग्रवादी सकरजीत गोप मूल रुप से जरिया गढ़ के बकसपुर उपर टोला के रहने वाले गंदुरा गोप का बेटा है। उन्होंने बताया कि सकरजीत के खिलाफ जिले के
कर्रा थाना में चार खूंटी थाना में एक धुर्वा थाना में एक और गुदड़ी
थाना में हत्या, रंगदारी आगजनी व आर्म्स के आधा दर्जन से अधिक मामले फिलहाल दर्ज है। इन मामलों में पुलिस को लंबे समय से उसकी तलाश थी। छापामारी दल में कर्रा थाना प्रभारी मुन्ना सिंह पुअनि मनीश कुमार और लोधमा पिकेट के जवान शामिल थे।

%d bloggers like this: