अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बन्ना गुप्ता अग्रोहा में आद्य लक्ष्मी मंदिर के भूमि पूजन में शामिल हुए

जमशेदपुर:- अग्रवालों के शक्तिपीठ एवं तीर्थ स्थान अग्रोहा में प्रस्तावित “कुलदेवी आद्यलक्ष्मी एवं अष्टलक्ष्मी के विश्व स्तरीय भव्य मंदिर“ के निर्माण हेतु कल 17 जुलाई को आयोजित “भूमि पूजन एवं शिलान्यास समारोह में “अति विशिष्ट अतिथि“ के रूप में शिरकत कर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता साथ गए उनकी धर्मपत्नि, पुत्र एवं अग्रवाल सम्मेलन जिला अध्यक्ष संतोष अग्रवाल, उपाध्यक्ष मुकेश मित्तल, अग्रवाल सम्मेलन के प्रदेश प्रवक्ता कमल किशोर अग्रवाल, कोल्हान प्रमंडल के अध्यक्ष अरुण बाकरेवाल,पीए संजय ठाकुर आज वापस लौट गये।
यह जानकारी अखिल भारतीय अग्रवाल सम्मेलन के झारखंड प्रदेश के प्रवक्ता कमल किशोर अग्रवाल ने दी।
उन्होंने बताया की अग्रोहा में आयोजित भव्य भूमि पूजन एवं शिलान्यास समारोह में झारखंड के मंत्री बन्ना गुप्ता के साथ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के राष्ट्रीय प्रचारक इंद्रेश , वरिष्ठ प्रचारक प्रेमचंद गोयल, उत्तर प्रदेश के मंत्री नंद गोपाल गुप्ता, कपिल देव अग्रवाल प्रयागराज की मेयर अभिलाषा गुप्ता, उत्तराखंड के विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल उत्तराखंड के राज्यसभा सांसद नरेश बंसल विशेष रूप से उपस्थित थे ।
अतिथियों के सम्मान में आयोजित कार्यक्रम में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने अपनी ओजस्वी भाषण से लोगों को बहुत प्रभावित किया । उन्होंने कहा कि हम राम के वंशज हैं और राम ने जो हमें मार्ग दिखाया है हमें उनका अनुसरण करना चाहिए उन्होंने कहा कि राम ने हमेशा। उन्होंने कहा कि श्री राम हमेशा सर्वहारा वर्ग के प्रति अपनी प्रतिबद्धता प्रकट की है। उन्होंने कहा उन्होंने कभी भेदभाव नहीं की और सदैव सबको साथ ले चलने को हमेशा तत्पर रहें। उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा श्री राम ने केवटराज से लेकर भीलनी और शबरी तक को उपकृत कर लोगों को यही दर्शाने की कोशिश की कि हम सब को साथ ले चल कर ही एक अच्छे समाजवाद और एक अच्छे लोकतंत्र की परिकल्पना कर सकते हैं। उन्होंने समाज में व्याप्त दहेज प्रथा की तीखी आलोचना की। उन्होंने समाज में व्याप्त स्त्री हिंसा पर गंभीर चिंता प्रकट करते हुए कहा कि हमें इस इस तरह के मानसिकता को छोड़ना ही पड़ेगा।उन्होंने कहा कि हमारे अग्रवंश के प्रणेता अग्रसेन महाराज की एकात्म मानववाद और समाजवाद को धरातल पर उतारना का दायित्व हम अग्रवंशी ऊपर ही है। उन्होंने कहा कि हम अग्रवंशियों को व्यवसाय के साथ-साथ राजनीति, प्रशासनिक सेवाओं एवं अन्य सामाजिक और लोकहित के कामों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए और इस समाज में व्याप्त अराजकता को नष्ट करने के लिए जरूरत पड़े तो सब तरह से तैयार रहना चाहिए।
इस समारोह को वहां पर उपस्थित अन्य विशिष्ट अतिथियों ने भी संबोधित किया। इस समारोह की अध्यक्षता राष्ट्रीय अग्रवाल सम्मेलन के अध्यक्ष गोपाल शरण गर्ग एवं संचालन मंत्री गोपाल अग्रवाल एवं वसंत मित्तल ने किया। इससे पहले श्री गुप्ता के अग्रोहा के शक्तिपीठ मैं प्रवेश करते ही करतल ध्वनि के साथ फूल मालाओं एवं अग्रसेन जी की गगनभेदी जय जयकार से उनका भव्य स्वागत किया गया। उनके साथ गए उनकी पत्नी सुधा गुप्ता, पुत्र मयंक गुप्ता, अग्रवाल सम्मेलन के पदाधिकारी संतोष अग्रवाल, मुकेश मित्तल, कमल किशोर अग्रवाल एवं अरुण बाकरेवाल को भी अंग वस्त्र प्रदान कर एवं माला पहनाकर भव्य स्वागत किया गया।

%d bloggers like this: