अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अर्जुन मुंडा ने दिशा की बैठक में अधिकारियों को दिया निर्देश, कहा- अधिकारी कर्तव्यों का निर्वहन इमानदारीपूर्वक करें


खूंटी:- जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने आज खूंटी में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति, दिशा की बैठक में शत प्रतिशत वैक्सीनेशन सुनिश्चित करने, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना और वनाधिकार पट्टा देने और अन्य विकास योजनाओं की समीक्षा की। इस दौरान श्री मुंडा ने पदाधिकारियों को अपने कर्तव्यों का निर्वहन पूरी इमानदारी पूर्वक करने का निर्देश दिया। बैठक में मौजूद विधायक नीलकंठ सिंह मुडा ने पत्रकारों से बताचीत में कहा कि आधारभूत संरचनाओं के विकास, आजीविका आधारित योजनाएं, फसल बीमा का निर्धारित लक्ष्य समेत अन्य योजनाओं की समीक्षा की गयी।
बैठक में शहरी क्षेत्र को प्यास बुझाने के लिए तीन वर्ष पूर्व शहरी पेयजलापूर्ति योजना शुरू की गई थी, लेकिन तीन वर्ष बीतने के बाद भी मात्र 10 प्रतिशत कार्य होने से मंत्री ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को फटकार लगाते हुए कहा कि अगली बैठक में अगर कार्य मे बढ़ोतरी नही हुई तो इस बार एजेंसी के खिलाफ कड़े कदम उठाए जाएंगे।
खूंटी समाहरणालय सभागार में शनिवार को दिशा की बैठक आयोजित की गई थी। बैठक में जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, विधायक नीलकंठ सिंह मुण्डा और तोरपा विधायक कोचे मुण्डा ने विभागवार जिले में चल रहे विकास कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। प्रधानमंत्री आवास योजना, शहरी और ग्रामीण पेयजलापूर्ति योजना, घर घर नल जल योजना, विद्युतापूर्ति, जिले में स्वास्थ्य संबधी आधारभूत संरचनाओं का निर्माण की प्रगति, सामाजिक सुरक्षा और पेंशन योजनाओं के लाभुकों, मनरेगा से जुड़ी योजनाओं और प्रत्येक प्रखंडों में चल रही महिला समूहों के लिए आजीविका आधारित योजनाएं, फसल बीमा का निर्धारित लक्ष्य, एफपीओ का गठन समेत विभिन्न योजनाओं की वर्त्तमान स्थिति का जायजा लिया। समीक्षा के दौरान पाया गया कि लगभग योजनाओ की गति कम होने के कारण कार्य पूर्ण नही हो पाया। शहरी जलापूर्ति योजना से लेकर रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय का निर्माण कार्य पर फुल स्टॉप लगने से केंद्रीय मंत्री और विधायक ने अधिकारियों पर नाराजगी जताई है।

%d bloggers like this: