January 27, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

चार माओवादी नक्सलियों के खिलाफ एक करोड़ इनाम की घोषणा

झारखंड में 173 नक्सलियों के विरुद्ध पुरस्कार

रांची:- झारखंड सरकार की ओर से चार नक्सलियों के खिलाफ एक करोड़ इनाम की घोषणा की है। इस संबंध में मंगलवार को मुख्यमंत्री की स्वीकृति के बाद गृह विभाग द्वारा आदेश जारी कर दिया गया।
जिन नक्सलियों के खिलाफ एक करोड़ इनाम की घोषणा की है, उनमें भाकपा-माओवादी के प्रशांत बोस उर्फ किशन दा उर्फ मनीष उर्फ बुढ़ा, मिसिर बेसरा उर्फ भास्कर उर्फ सुनिर्मल जी उर्फ सागर, असीम मंडल उर्फ आकाश उर्फ मिसिर, अनल दा उर्फ तूफान उर्फ पतिराम मांझी उर्फ पतिराम मरांडी उर्फ रमेश शामिल है।

भाकपा-माओवादी के गणेश भारती उर्फ अभ्यास उर्फ प्रेम भुईंयां के खिलाफ 15 लाख, सहदेव महतो उर्फ सुभाष जी के खिलाफ 5 लाख नागेश्वर गंझू उर्फ तरूण जी के खिलाफ 5 लाख, पुनई उरांव के खिलाफ 2 लाख, कार्तिक महतो के खिलाफ 1 लाख व अमोज मोदक के खिलाफ 1 लाख इनाम की घोषणा की गयी है।
भाकपा-माओवादी के चमन उर्फ लंबू, लालचंद हेम्ब्रम उर्फ अनमोल दा, रघुनाथ हेम्ब्रम उर्फ निर्भय जी उर्फ चंचल, अजीत उरांव उर्फ चार्लिस उरांव उर्फ तूफान जी, संदीप यादव उर्फ विजय , अजय उर्फ अजय महतो उर्फ टाइगर, पीएलएफआई के दिनेश गोप के खिलाफ पंद्रह लाख के इनाम की घोषणा की गयी है। वहीं भाकपा-माओवादी के मोछू उर्फ मेहनम उर्फ विभीषण उर्फ कुम्बा मुर्मू, संजय महतो उर्फ संतोष उर्फ बासुदेव महतो उर्फ बासुकी , बुद्धेश्वर उरांव, नवीन उर्फ सर्वजीत यादव उर्फ विजय यादव, छोटू जी उर्फ छोटू सिंह, पीएलएफआई के मार्टिन केरकेट्टा , भाकपा-माले रमेश गंझू उर्फ अंकित जी उर्फ आजाद, टीएसपीसी के अक्रमण गंझू , मुकेश गंझू, पीएलएफआई के जिदन गुड़िया , कृष्णा हांसदा उर्फ अविनाश मांझू, पिंटू राणा उर्फ राजेश राणा,मुराद जी उर्फ गुरुजी, रामप्रसाद मार्डी उर्फ सचिन मार्डी, रवींद्र गंझू उर्फ सुरेंद्र गंझू, अमित मुंडा उर्फ सुखलाल मुंडा, बेला सरकार उर्फ पंचमी उर्फ दीपका सरकार उर्फ संध्या विश्वास के खिलाफ 15लाख, भाकपा-माओवादी के सुरेश सिंह मुंडा, पीएलएफआई के तिलकेश्वर गोप, टीएसपीसी के आरिफ जी उर्फ शशिकांत उर्फ, भाकपा-माओवादी के रामदयाल महतो , मृत्युजंय जी उर्फ फरेश भुईंया, बलराम उरांव, रहिमन जी उर्फ कंचन तुरी उर्फ राजू, दीपक यादव उर्फ करण यादव, मुनेश्वर गंझू,महाराजा प्रमाणिक, जीवन कंडुलना उर्फ पतरस, सुधीर किस्कू उर्फ सुलेमान हांसदा,अरविंद भुईंया उर्फ मुखिया जी, जेजेएमपी का पप्पू लोहरा उर्फ सोमेद लोहरा, भाकपा-माओवादी का मनोहर गंझू उर्फ सोहन गंझू, उर्फ दिनेश गंझू, प्रशांत मांझी उर्फ छोटका मुर्मू, निरज सिंह खेरवार उर्फ संजय खेरवार सेबराम मांझी, संतोष यादव उर्फ गुलशन जी उर्फ आलोक उर्फ रवि, भीखन गंझू, शनिचर सुरीन, विवेक यादव उर्फ सुनील यादव उर्फ कोरो उर्फ राजेंद्र यादव के खिलाफ दस लाख रुपये इनाम की घोषणा की गयी है। वहीं मुनचंद महतो उर्फ गांधी, रघुउरांव उर्फ गुरुचरण उरांव, अभिजीत यादव, गुलशन सिंह मुंडा, प्रदीप सिंह खरवार, सहदेव यादव उर्फ लट्टन यादव उर्फ सुदर्शन, गोदराय यादव उर्फ संजय यादव, ननकुरिया उर्फ नंद किशोर यादव, चंदन सिंह खरवार, बोयदा पाहन, टीएसपीसी का दशरथ उरांव उर्फ रोशन , भाकपा-माओवादी का सुदर्शन उर्फ नंदकिशो भुईंया, खुदी मुं, प्रशांत मुंडा, सीताराम रजवार, प्रभात गंझू,शिवपूजन यादव , बीरबल उरांव, रवींद्र यादव, शीतल मोची, चंद्रभान पाहन,रामप्रसाद यादव, सीता भुईंया उर्फ सीता, लवलेश गंझू, अजय यादव, जयंती उर्फ रेखा, के खिलाफ पांच-पांच लाख रुपये इनाम की घोषणा की गयी है। भाकपा-माओवदी के लाजीत अंसारी, गोविंद बिरजिया, पंकज कोरबा, मंगरा लुगुन, कुंबेर मांझी, लोदरो लोहरा, विरेन सिंह उर्फ सागर सिंह, रवींद्र मेहता उर्फ छोटा ब्यास, अजय पूर्ति उर्फ मनोज पूर्ति, चोयता उर्फ सनिका ओडेया, बलराम लोहरा, नोवेल सांडी पूर्ति, सामुएल कंडुलना, संतोष्ज्ञ कंडुलना,सागेर अंगरिया, जोसेफ अंगरिया, करीमजी उर्फ गुलाब जी के खिलाफ दो-दो लाख रुपये इनाम की घोषणा की गयी है।
जबकि जेजेएमपी का फिरोज अंसारी, भाकपा-माओवादी का कुलदीप जी उर्फ कुलदीप खेरव, टीएसपीसी का वीरेंद्र गंझू, ढुल्लूटोपनो उर्फ लारा टोपनो,भाकपा-माओवादी के बच्चन मुंडा, अरूण हेरेंज, सुखराम गुड़िया, ललींद्र महतो, सूर्या उर्फ सूर्यम, मेरिना सिरका, पीएलएफआई का बिरसा हास्सा पूर्ति, सामुएल बुढ़, भाकपा-माओवादी का पांचा उरांव, अनिल परहरिया, टीएसपीसी का राकेश साव, संतोष गंझू, पीएलएफआई का गोपाल होरो, भाकपा-माओवादी का फागु मुंडा, गीता उर्फ नयनतारा, सहेंद्र यादव, लक्ष्मणराय, जितेंद्र रायउर्फ रमी, जितेंद्र गंझू, जतरू खेरवार, उष्ज्ञा मांझी उर्फ उषा संथाली, टीएसपीसी का पत्थरजी उर्फ लक्ष्मण गंझू और संतोष्ज्ञ भुईंया के खिलाफ 1-1 लाख रुप्ये पुरस्कार की षोघ्ज्ञा की गयी है।

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी और पीएलएफआई के फरार चल रहे छह सक्रिय नक्सलियों की गिरफ्तारी को लेकर नए पुरस्कार राशि की घोषणा, 120 नक्सलियों के विरुद्ध पहले से घोषित पुरस्कार राशि का नवीकरण औऱ एक भाकपा माओवादी के खिलाफ पद एवं पुरस्कार राशि का उत्क्रमण करने से संबंधित प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। वर्तमान समय में 279 नक्सलियों के खिलाफ पुरस्कार उद्घोषित है.।इनमें से 106 नक्सली या तो गिरफ्तार हो चुके हैं या आत्मसमर्पण कर चुके हैं अथवा पुलिस मुठभेड़ में मारे गए हैं।इस तरह फिलहाल 173 नक्सलियों के विरुद्ध पुरस्कार घोषणा प्रभावी है।

पुरस्कार की घोषणा दो वर्ष तक वैध

नक्सलियों के खिलाफ पुरस्कार की घोषणा दो साल तक वैध होगी। दो वर्ष के बाद पुनः नए पुरस्कारों की घोषणा की जा सकती है. वहीं, पांच लाख रुपए तक पुरस्कार उद्घोषित करने का अधिकार पुलिस महानिदेशक को है, जबकि पुलिस अधीक्षक दो लाख रुपए तक पुरस्कार उद्घोषणा कर सकते हैं. इससे ऊपर की पुरस्कार राशि की घोषणा के लिए राज्य सरकार सक्षम है ।

Recent Posts

%d bloggers like this: