March 7, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अंकिता ऑस्ट्रेलियाई ओपन क्वालीफायर के आखिरी दौर में हारी, उम्मीदें अब भी बरकरार

मेलबर्न:- अंकिता रैना का ग्रैंडस्लैम एकल मुख्य ड्रॉ में खेलने का सपना एक बार फिर अधूरा रह गया जब वह बुधवार को आस्ट्रेलियाई ओपन क्वालीफाइंग टूर्नामेंट के आखिरी दौर में सर्बिया की ओल्गा डानिलोविच से हार गई। दुबई में चल रहे महिला एकल क्वालीफायर में अंकिता को तीसरे और आखिरी दौर में सर्बियाई खिलाड़ी ने दो घंटे में 6 . 2, 3-6, 6-1 से मात दी। अंकिता अपनी पहली सर्विस पर अंक नहीं बना पाई जिसका उन्हें नुकसान हुआ। उन्होंने कहा कि उनकी प्रतिद्वंद्वी ने अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाया। अंकिता ने कहा, ‘हम दोनों ने अच्छी टेनिस खेली। पहले सेट में उच्चस्तर का खेल हुआ। वह अच्छी सर्विस कर रही थी और अपनी सर्विस पर अंक बना रही थी।’ उन्होंने कहा, ‘दूसरे सेट में मैं उसकी सर्विस को अच्छी तरह से समझने लगी और मैंने जवाबी रिटर्न किए जिसका मुझे फायदा मिला। उसने तीसरे सेट में शुरू से ही अच्छी सर्विस करके 3-0 से बढ़त बनाई। उसके स्ट्रोक और सर्विस तेज थे। मैंने हालांकि आखिर तक हार नहीं मानी और मुझे इस पर गर्व है।’ अंकिता का ग्रैंडस्लैम के मुख्य दौर में जगह बनाने का यह छठा प्रयास था। अंकिता को हालांकि अब भी मुख्य ड्रा में जगह बनाने की उम्मीद है क्योंकि आयोजकों ने अंतिम दौर में हारने वाले खिलाड़ियों को मेलबर्न ले जाने की योजना बनाई ताकि किसी खिलाड़ी के हटने की स्थिति में उन्हें ‘लकी लूजर’ के तौर पर मुख्य ड्रा में जगह दी जा सके। अंकिता ने कहा, ‘वे (आयोजक) मुझे मेलबर्न ले जा रहे हैं और कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए कुछ खिलाड़ी हट सकते हैं। मैं कतार में सातवें स्थान पर हूं। मुझे अब भी उम्मीद है।’ अगर अंकिता को ड्रा में जगह नहीं मिलती तो फिर सत्र के पहले ग्रैंडस्लैम में एकल वर्ग में भारत की उम्मीदें सिर्फ सुमित नागल पर टिकी रहेंगी। उन्हें पुरूष एकल में वाइल्ड कार्ड मिला है। रामकुमार रामनाथन पुरूष एकल क्वालीफायर के पहले दौर में हार गए जबकि प्रजनेश गुणेश्वरन को दूसरे दौर में पराजय झेलनी पड़ी।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: