अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

प्रभु येसु के सामने समाज के सभी लोग एक है -बिशप फेलिक्स

रांची:- साल के 16वें रविवार को रांची के पुरुलिया रोड स्थित संत मारिया महगिरिजघर में विशेष मिस्सा अनुष्ठान का आयोजन किया गया। ऑनलाइन मिस्सा अनुष्ठान में आर्च बिशप फेलिक्स टोप्पो ने कहा कि ईश्वर ने अपने प्रिय पुत्र प्रतिज्ञात मसीह के द्वारा हमें पाप की दासता और मृत्यु से मुक्त किया। हमे आपस में और ईश्वर के साथ पुनरू संबंध जोड़ा और अपनी चुनी हुई लेकिन बिखरी हुई प्रजा को पुनरू इकट्ठा करके शक्तिशाली और धर्मिक समुदाय के रूप में स्थापित किया। इन तीनों विषयों पर हम थोड़ी देर मनन करें। पहला पाठ नबी यिरिमियस से लिया गया है। इस पाठ में चरवाहों को तत्कालीन इस्राएली अगुआ और भेडों को उनकी प्रजा के प्रतीक स्वरूप व्यक्त किया गया है। इस प्रतीक के प्रयोग से लोग कथित विषय को अच्छी तरह समझ सकते थे। क्योंकि उनका दैनिक जीवन भेड़ों और चरवाहों से अनन्य रूप से जुड़ा हुआ था। ईश्वर नबी के मुख से अपनी नाराजगी व्यक्त करते हुए कहता है कि इन अगुओं और नेताओं ने अपनी स्वार्थ-पूर्ति के लिए, शक्ति-प्राप्ति के लिए, और सांसारिक महत्वकांक्षाओं की परिपूर्ति के लिए इस्राएलियों की देख-रेख और निगरानी नहीं की। इसका दुष्परिणाम यह हुआ कि इस्राएली प्रजा प्रभु के द्वारा बताए हुए मार्ग से इधर-उधर भटक गई, बिखर गई। ईश्वर कहता है कि इन गैर जिम्मेदार अगुओं और नेताओं को वह दण्ड देगा। प्रभु येसु ने ऊंच-नीच, शिक्षित-अशिक्षित, और यहूदियों-गैर यहूदियों को एक कर दिया । प्रिय भाइयो और बहनो, हम हमारे देश के उन नेताओं के लिए प्रार्थना करें। जिनके ऊपर हमारे देश की सुरक्षा, संविधान के मूल्यों की रक्षा, नागरिकों की देख-भाल और उनके सर्वांगीन विकास की जिम्मेदारी सौंपी गई है। ऐसा न हो कि वे अपनी स्वार्थ-पूर्ति के लिए, शक्ति-प्राप्ति के लिए और सांसारिक महत्वकांक्षा -परिपूर्ति के लिए अपनी जिम्मेदारियों को दरकिनार कर दे।

%d bloggers like this: