June 17, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अलीगढ़ शराबकांड : आठ लोगों ने गंवाई जान, मुख्यमंत्री ने जांच के दिए आदेश

-करसुआ में छह लोगों के अलावा छेरत इलाके में भी शराब पीने से लोगों की गई जान

-मुख्यमंत्री ने कहा, दोषियों की सम्पत्ति नीलाम कर मृतकों के परिजनों के मुआवजे में दी जाए धनराशि

अलीगढ़:- उप्र के अलीगढ़ जिले में लोधा थाना क्षेत्र अंतर्गत गांव करसुआ में शराब पीने से छह की मौत हो गई है। जबकि सात अभी भी अस्पताल में भर्ती हैं। वहीं छेरत इलाके में भी शराब पीने से बिगड़ती तबीयत के बाद दो लोगों की मौत की बात सामने आई है। यहां एक की हालत गम्भीर बनी हुई है। जनपद में शराब पीने से आठ लोगों की मौत से जिला व पुलिस प्रशासन में खलबली मच गई है। उधर, मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ा संज्ञान लेते हुए उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने मामले में दोषियों पर रासुका की कार्यवाही किए जाने की बात अफसरों से कही है। बता दें कि, अलीगढ़ जनपद के लोधा थानाक्षेत्र में करसुआ गांव में स्थित ठेके से ग्रामीणों ने गुरुवार को शराब ली। बताया जाता है कि शराब पीने से डेढ़ दर्जन लोगों की तबीयत बिगड़ गई और शुक्रवार सुबह तक एक-एक कर छह लोगों की मौत हो गई। जबकि सात लोगों को गम्भीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस घटना को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया और हंगामा काटा। मामले की सूचना मिलते ही जिला व पुलिस प्रशासन में हड़कम्प मच गया। प्रकरण की गम्भीरता को देख जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी के अलावा एसपी सिटी, एसपी देहात सहित भारी संख्या में पुलिस फोर्स घटना स्थल पर पहुंच गए और ग्रामीणों से पूरे मामले की जानकारी की। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और ग्रामीणों ने शांत कराते हुए कड़ी कार्यवाही का आश्वासन दिया। जिलाधिकारी ने बताया कि अभी सात लोगों का इलाज अस्पताल में चल रहा है। पूंछतांछ के आधार पर प्रथमदृष्टया शराब ठेके को सील कर जांच में अफसरों की टीमें लगी हुई हैं।
इनकी हुई मौत
ग्रामीणों ने बताया कि शराब पीकर मरने वालों में गांव करसुआ के 40 वर्षीय महेश पुत्र रमेश, 35 वर्षीय राजेश पुत्र खूबीराम, 28 वर्षीय सुनील पुत्र धर्मा और 34 वर्षीय अवनीश पुत्र अशोक निवासी कुटिया जनपद प्रतापगढ़, 50 वर्षीय लल्लन प्रसाद पुत्र कामेश्वर निवासी दामोंन समस्तीपुर (बिहार), व 45 वर्षीय महेश पुत्र रघुवीर निवासी राम नगला जनपद मथुरा शामिल हैं। इनके अलावा शराब पीने से जेएन मेडिकल कॉलेज में ओमप्रकाश, सोनपाल, पप्पू निवासी करसुआ, लोधा, ओम दत्त रावत, विजेंद्र प्रकाश रावत, रंजीत निवासी अंडला खैर के अलावा एक अन्य समेत सात लोगों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।
शराब पीने से छेरत में हुई मौत
जवां ब्लॉक के छेरत इलाके में भी शराब पीने से करसुआ गांव की तरह ही मौत की घटना सामने आई है। छेरत के पास स्थित कालूपुरा रोड पर देसी ठेके से आसपास के ग्रामीणों ने शराब ली थी। जिसे पीने के बाद छेरत निवासी मनोज (50) पुत्र सुखवीर, जीतेंद्र (50) पुत्र बर्फ सिंह, ओम वीर (40) पुत्र शीशपाल व टीन्नू पुत्र साहब सिंह की तबीयत बिगड़ गई। जिन्हें परिजन पास के अस्पताल ले गए। बताया जाता है कि अस्पताल में इन्हें भर्ती नहीं किया गया और दो ने दम तोड़ दिया। जबकि टीन्नू की आंखों की रोशनी चली गई है। इस मामले की जानकारी पर स्थानीय थाना पुलिस के साथ क्षेत्राधिकारी सिविल लाइन विशाल चौधरी मौके पर पहुंच गए हैं व मृतकों के परिजनों व ग्रामीणों से पूंछतांछ करते हुए जांच कर कार्यवाही में जुट गए।
दोषियों पर रासुका की कार्यवाही के साथ सम्पत्ति की जाए नीलाम – योगी
उप्र के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना को लेकर अपने आवास पर गृह विभाग और आबकारी विभाग के अधिकारियों को तलब किया। कहा कि इस घटना को गम्भीरता से अधिकारी जांच करें। दोषी पाये जाने वालों पर रासुका के तहत कार्यवाही की जाए। प्रकरण में अगर शराब सरकारी ठेके से खरीदी गई है तो ठेके को सीजकर संचालक के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए। साथ ही दोषियों की सम्पत्ति नीलामी कर प्राप्त धनराशि को मृतक के परिवारीजनों को मुआवजे के तौर पर दिया जाए।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: