June 21, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

राज्यसभा चुनाव के बाद बड़कागांव विधान सभा में रैयतों और जन प्रतिनिधियों पर दर्ज सभी मामले की हो निष्पक्ष जांच : अंबा प्रसाद

रांची:- राज्य सभा हॉर्स ट्रेडिंग मामले में अंबा प्रसाद ने कहा कि राज्यसभा चुनाव 2016 में तत्कालीन मुख्यमंत्री रघुवर दास के द्वारा राज्यसभा चुनाव को प्रभावित करने का प्रयास किया गया तथा उनके द्वारा पद का दुरुपयोग करते हुए सरकारी तंत्र के इस्तेमाल से पूर्व मंत्री योगेंद्र साव एवं उनकी विधायक पत्नी निर्मला देवी को राज्यसभा चुनाव में भाजपा के पक्ष में वोट नहीं देने के कारण कई झूठे मामलों में फंसा कर जेल भेज दिया गया साथ ही राज्य बदर करवा दिया गया ।
अंबा प्रसाद ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री विद्वेष और प्रताड़ित करने की राजनीति करते रहे हैं । उनके ही द्वारा मेरे माता-पिता मेरे भाई एवं मुझको भी कई फर्जी मुकदमे में अभियुक्त बनाकर पूरे परिवार को प्रताड़ित किया गया ।
बड़कागांव में कंपनियों को फायदा दिलाने के लिए रैयतों के ऊपर दर्जनों झूठे मुकदमे, लाठीचार्ज, विधायक निर्मला देवी के साथ मारपीट , ढेंगा गोलीकांड, चिरूडीह हत्याकांड श्री रघुवर दास के कार्यकाल में ही हुए । पूर्व मंत्री योगेंद्र साव को अनेकों बार असंवैधानिक ढंग से सीसीए लगा कर वर्षों जेल में रखा गया । पूर्व विधायक निर्मला देवी को कई महीने जेल और वर्षों राज्य से बाहर भोपाल में रहने को विवश किया गया ।
उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग के आदेश पर झारखंड सरकार द्वारा जो कदम उठाए गए हैं वह कानून संगत और सराहनीय हैं और पुलिस प्रशासन द्वारा निष्पक्ष कार्य किया जा रहा है । राज्य सभा हॉर्स ट्रेडिंग मामले में तत्कालीन मुख्यमंत्री के रोल की जांच के साथ साथ मुख्यमंत्री से आग्रह है कि राज्यसभा चुनाव के बाद विद्वेष एवं प्रताड़ना देने के लिए जितने भी मुकदमे बड़कागांव के रैयतों एवं जनप्रतिनिधियों पर किया गया है वह सभी की निष्पक्ष जांच करवा कर चिरुडीह गोलीकांड, ढेंगा गोलीकांड एवं विभिन्न बर्बरता में संलिप्त दोषियों के ऊपर हत्या का मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाए ।
तत्कालीन विधायक निर्मला देवी बड़कागांव की जनता के हित के लिए तथा उन्हे उचित मुआवजा और अधिकार दिलाने के लिए शांतिपूर्ण ढंग से धरने पर बैठी थी । जिनको रघुवर दास के सरकार के इशारे पर सभी नियम कानून को ताक पर रखकर प्रातः लगभग 4ः00- 5ः00 बजे घसीटते हुए बगैर महिला पुलिस के गाड़ी में बैठाया गया थाने के बजाए कहीं और ले जाने का प्रयास किया गया । इसका विरोध जब ग्रामीणों ने किया तो चीरूडीह गोलीकांड में उन पर लाठियां भी चलाई गई और गोलियां भी चलाई गई, जिसमें 3 निर्दोष ग्रामीण किसानों को मौत दे दी गई । इसके पूर्व योगेंद्र साव को भी इसी तरह से जनहित में किए जा रहे जनआंदोलनो को कुचलने के लिए दर्जनो झूठे मुकदमों में फंसाकर केवल जेल ही नहीं भेजा गया बल्कि उन पर एक बार नहीं दो बार नहीं तीन तीन बार क्राइम कंट्रोल एक्ट लगाकर जेल में डालने का कुत्सित कार्य रघुवर दास की सरकार के द्वारा किया गया है । मेरी मां निर्मला देवी बिल्कुल निर्दोष थी , पर उन्हे भी दो दो बार जेल भेजा गया यहां तक की उनको राज्य बदर कर दिया गया ।
सत्य को विचलित तो किया जा सकता है परंतु पराजित नहीं किया जा सकता। इसलिए चुनाव आयोग और सरकार ने जो कदम उठाया है वह सराहनीय है और मुझे न्याय पर पूरा भरोसा है कि इस पर बहुत जल्द न्याय होगा । भाजपा के नेता अपने बयान से अंधी बफादारी निभा रहे हैं । पूरा प्रदेश जानता है कि कैसे पूर्व मंत्री और उनके पूरे परिवार को प्रताड़ित किया गया है । प्रताड़ित करने की राजनीति कांग्रेस जेएमएम नहीं बीजेपी करते आ रही है । कानून अपना काम कर रही है, जल्द दूध का दूध और पानी का पानी जरूर हो जाएगा ।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: