अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सवा साल के लंबे अंतराल के बाद नृत्यगोपाल ने किये रामलला के दर्शन


अयोध्या:- श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास ने 16 माह के लंबे अंतराल के बाद रविवार को श्रीरामजन्मभूमि पर विराजमान रामलला का दर्शन-पूजन किया।
अस्वस्थ रहने के कारण महंत दास रामलला के दरबार नहीं आ पा रहे थे। महंत ने मर्यादा पुरूषोत्तम का दर्शन पूजन करने के बाद मंदिर निर्माण के लिये जारी कार्यो का अवलोकन भी किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के रहते यह असंभव कार्य आज मूर्त रूप लेने लगा है। कुशल इंजीनियरों के मार्गदर्शन में तीव्रता से कार्य हो रहा है। ऐसा लग रहा है कि दो वर्षों के उपरान्त श्रीरामलला गर्भगृह में अवश्य विराजमान हो जायेंगे और रामभक्त हजारों की संख्या में जगमोहन में एक साथ खड़े होकर दर्शन करेंगे।
ज्ञातव्य है कि श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष एवं मणिराम दास छावनी के महंत नृत्यगोपाल दास विगत पांच अगस्त 2020 को सम्पन्न हुए भूमि पूजन के उपरांत श्रीरामलला के दर्शन-पूजन तथा ट्रस्ट द्वारा कराये जा रहे भव्य मंदिर कार्यों का अवलोकन करने पहुंचे थे। वे कोरोना महामारी के कारण विगत एक वर्ष से अस्वस्थ चल रहे थे। इस बीच धीरे-धीरे स्वास्थ्य में सुधार होने पर ट्रस्ट द्वारा आनलाइन बैठकों का समय-समय पर हिस्सा जरूर बनते रहे और चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी लेते रहे।
तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष ने कहा कि मैं सदैव कहता रहा कि देश व प्रदेश की बागडोर कुशल व कर्मठ हाथों में है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के रहते ही मंदिर निर्माण की समस्या का समाधान हो जायेगा जो सर्वोच्च न्यायालय द्वारा हो भी गया है। उन्होंने कहा है कि लक्ष्य अगर पवित्र और धर्मसंगत हो तो स्वयं परमात्मा सहयोग करते हैं। यहां तो स्वयं परमात्मा विराजमान होने वाले हैं। उन्होंने कहा कि श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट मंदिर निर्माण के कार्यों में सक्रिय है। ट्रस्ट के पदाधिकारी व सदस्य लगातार छोटे-छोटे विषयों पर भी गंभीरतापूर्वक चर्चा एवं मंथन करते हैं जिससे मंदिर निर्माण कार्य को प्रगति मिलती जा रही है। दो वर्ष के उपरान्त लंबी प्रतीक्षा समाप्त होगी और श्रीराम गर्भगृह में विराजमान हो जायेंगे।
श्री दास ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार समाजहित में लगातार कार्य कर रही है। एक लंबे कालखंड के उपरान्त देश की सत्ता पर धार्मिक, सामाजिक मूल्यों की रक्षा करने वाले लोग बैठे हैं, जिनके कुशल मार्गदर्शन में अयोध्या सहित समस्त धार्मिक नगरों का विकास तीव्रता से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि काशी विश्वनाथ कोरीडोर के निर्माण से सम्पूर्ण देश में मोदी के प्रति विश्वास और मजबूत हुआ है, जो लोग हर्षित हैं। उनके साथ दर्शन के दौरान श्रीराम मणिरामदास छावनी सदस्य कृपालु दास, पंजाबी बाबा ट्रस्ट सदस्य डा. अनिल मिश्रा, संत जानकी दास, विहिप प्रवक्ता शरद शर्मा सहित लोग उपस्थित रहे।

%d bloggers like this: