अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

तालिबान को समर्थन देने पर अफगानिस्तान का पाक पर हमला, कहा- बारिशों से दोस्ती अच्छी नहीं होती

नई दिल्ली:- अफगानिस्तान में लड़ाकों की उग्र हिंसा के बीच ने अफगानिस्तान के दूत फरीद ममूंदजे ने पाकिस्तान पर निशाना साधा है। मीडिया से बातचीत के दौरान फरीद ममूंदजे ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि पाकिस्तान को समझना चाहिए कि बारिशों से दोस्ती अच्छी नहीं होती। उन्होंने कहा कि वह तालिबान को समर्थन देना बंद करे। भारत स्थित अफगानिस्तान के राजदूत फरीद मामुंदजे ने कहा, तालिबानी लड़ाकों ने अफगानिस्तान की पिछले एक दशक की उपलब्धियों को बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा, पाकिस्तान के क्वेटा, पेशावर और अन्य जगहों पर शूरा की मौजूदगी हमारे लिए गंभीर चिंता की बात है। तालिबानियों ने अफगानिस्तान के कई जिलों पर कब्जा कर लिया है और अफगानिस्तान की फौज पर हमले तेज कर दिए हैं। अप्रैल में विदेशी सेना के अफगानिस्तान छोड़ने की घोषणा के बाद से लड़ाकों के हमले में 1000 से ज्यादा सैनिक और 3000 से ज्यादा नागरिक मारे गए हैं।
दरअसल अफगानी एंबेसडर फरीद ममूंदजे से सवाल पूछा गया था कि पाकिस्तान के समर्थन के बिना तालिबान इतना आगे नहीं बढ़ पाता, इस पर आप क्या कहेंगे? इस पर फरीद ममूंदजे ने कहा कि तालिबान के बड़े नेताओं की जड़ें पेशावर से जुड़ी हुई हैं। उनके परिवार, उनके इन्वेस्टमेंट, बिजनेस सभी पेशावर में हैं। उन्होंने आगे कहा कि आज हम मुश्किल में हैं तो कल को उनके लिए भी मुसीबत बढ़ सकती है। मामुंदजे ने कहा, अफगानिस्तान में सुरक्षा के हालात ठीक नहीं हैं, लेकिन भारतीय दूतावास को तुरंत कोई खतरा नहीं है। सभी 34 प्रांतों की अस्थाई राजधानियों पर हमारी सेना का नियंत्रण है।
वहीं फरीद ने भारत की तारीफ करते हुए मदद की उम्मीद जाहिर की है। उन्होंने कहा कि फिलहाल हमारे यहां खाने की कमी है। भारत हमेशा से हमारे लिए एक बड़ा मददगार रहा है। हम भारत से मदद के लिए चर्चा कर रहे हैं और हमें पूरी उम्मीद है कि आने वाले वक्त में भारत हमारे कंधे से कंधा लगाकर खड़ा होगा। हांलाकि अफगानिस्तान की मदद की अपील के बाद भारत की ओर से कोई बयान जारी नहीं किया गया।

%d bloggers like this: