अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोविड से मृतक परिजनों से मिलने पहुंचा प्रशासनिक अमला

अनाथ बच्चों के पढ़ाई सहित हर संभव मदद का दिया भरोसा

हजारीबाग:- हजारीबाग उपायुक्त आदित्य कुमार आनन्द के नेतृत्व में प्रशासनिक अमला कटकमदाग प्रखण्ड के खपिरयांवा गांव में पहुंच कर कोरोना प्रभावित परिवारों से मिले। इस दौरान कोरोना से मृतक महेन्द्र साव के परिजनों व आश्रित बच्चों को आगे की पढ़ाई सहित सरकार की संचालित विभिन्न योजनाओं से जोड़कर हर संभव मदद करने की बात कही।
इस दौरान उपायुक्त ने ग्रामीणों से कहा कि परिवार के कमाऊ सदस्य की मृत्यु होने पर परिवार को बिखरने से बचाने केलिए राज्य सरकार द्वारा कई तरह की योजनाएं चलाई जा रही है। इसी क्रम में कोरोना से प्रभावित परिवारां को मदद करने के लिए कई संस्थाएं इस दिशा में काम कर रही है। समाज कल्याण विभाग अथवा समेकित बाल संरक्षण इकाई के माध्यम से वैसे प्रभावित परिवार की मदद के लिए लोग आवेदन कर सकत हैं। समाज कल्याण विभाग की इस स्पॉनसरशिप स्कीम में लाभ लेने के लिए आवेदन किया जा सकता है।
खपरियावां भ्रमण के क्रम में मृतक महेन्द्र साव के 16 वर्षीय पुत्री व 11 वर्षीय पुत्र को खेल किट, कम्बल, मच्छरदानी एवं आर्थिक मदद स्वरूप स्पॉन्सरशिप योजना के तहत 24 हजार रूपये पत्नी के खाते में, सूखा राशन सामग्री सहित राशनकार्ड दी गई। इस दौरान परिवार का भविष्य सुरक्षित रहे इसके लिए प्रखण्ड प्रशासन को अम्बेडकर आवास, विध्वा पेंशन, सुकन्या योजना, बच्चें के आगे की पढ़ाई की व्यवस्था करने का निर्देश मौके पर उपस्थित प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को दिया गया।
इस अवसर पर जिला समाज कल्याण पदाधिकारी शिप्रा सिन्हा ने जानकारी देते हुए कहा कि सरकार की स्पॉन्सरशिप योजना से मृतक के परिवार को सरकारी सहायता मुहैया कराई जाती है। प्रभावित परिवारों के गुजारा हेतु प्रतिमाह 2 हजार रूपये आर्थिक सहायता विभाग के द्वारा दिये जाने का प्रावधान है। अबतक कोरोना से प्रभावित 20 बच्चों तथा नन कोविड से प्रभावित 18 बच्चों को लाभ दिया जा चुका है। वहीं 6 लोगों को नवीकरण भी किया गया है।
मौके पर जिला सत्र न्यायाधिश अरून कुमार राय, डीडीसी अभय कुमार सिन्हा, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी शिप्रा सिन्हा, डालसा सचिव संदीप कुमार वाडा, कटकमदाग बीडीओ जितेन्द्र कुमार, सीओ बीरेन्द्र कुमार, सहित स्थानीय जनप्रतिनिधि व ग्रामीण उपस्थित थे।

%d bloggers like this: