April 13, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

आसन के ऊपर पक्षपात का आरोप लगाना आपत्तिजनक:विधानसभा अध्यक्ष

पटना:- बिहार विधानसभा में मंगलवार को जारी बजट सत्र के दौरान विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने सदन में जारी नोक-झोंक पर विधायकों को महाभारत का उदाहरण देकर अनुशासन की घुट्टी पिलाई।विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने महाभारत युद्ध के दौरान अर्जुन को कृष्ण के गीता का उपदेश का उदाहण देते हुए कहा कि यह शरीर नश्वर है,जो आया है वो जाएगा ही।विधानसभा अध्यक्ष ने साफ कर दिया कि आसन के ऊपर किसी भी तरह की टिप्पणी या पक्षपात का आरोप लगाना बेहद आपत्तिजनक है। इस मामले को आसन बेहद गंभीरता से लेता है। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि संवैधानिक पद पर बैठे किसी व्यक्ति के आचरण को जनता भी देखती है, ऐसे में पक्ष हो या विपक्ष किसी को इस पर टिप्पणी करने का अधिकार नहीं है। प्रश्नोत्तर काल में एक सवाल पर जब पूरक को लेकर विधायक जिद करने लगे तो उन्होंने सदन में चेतावनी देते हुए यह बात कही।स्पीकर ने कहा कि अगर कोई विधायक के ऐसा आचरण करेंगे और आसन की बात नहीं मानेंगे तो वह बाहर भी निकलवा देंगे।इशारों ही इशारों में विजय कुमार सिन्हा ने डिप्टी सीएम तार किशोर प्रसाद के आरोपों का न केवल जवाब दे दिया बल्कि यह भी बता दिया कि आसन पर बैठने के बाद वह पार्टी के लिए काम नहीं कर रहे बल्कि विधानसभा अध्यक्ष के पद के मुताबिक आचरण कर रहे। उल्लेखनीय है कि बीते कुछ दिनों से सदन में आरोप लगाया जा रहा था कि आसन को गाइड किया जा रहा है। इसी बात पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि आसन पर दबाब बनाने वाले सदस्य अपने बेहतर छवि को धूमिल करते हैं। इस दौरान विधान सभा अध्यक्ष ने वाम दल के विधायक मनोज मंजिल को बार बार खड़े होकर सवाल पूछने को लेकर चेतावनी भी दी। उन्होंने कहा कि अब बार बार खड़े हुए तो सदन से बाहर निकाल दिया जाएगा।

Recent Posts

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: