January 28, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एक शिक्षक ने शिक्षकों के अधिकारी ग्रुप में पोस्ट की अश्लील तस्वीर, शर्मसार हुआ शिक्षा जगत

शिक्षक-शिक्षिकाओं ने की आरोपी शिक्षक पर कार्रवाई की मांग

चतरा:- झारखंड के चतरा जिले में पत्थलगड़ा प्रखंड में एक बार फिर शिक्षक की महिमा तार तार हु‌ई। लिहाजा यहां शिक्षक समुदाय एक बार फिर शर्मसार है। कहते हैं शिक्षक समाज के दर्पण होते हैं जिसके भरोसे कल का भविष्य तैयार होता है। लेकिन पत्थलगड़ा में इन दिनों शिक्षकों के अमर्यादित पोस्ट ने शिक्षा जगत को शर्मसार कर के रख दिया है। इस बार पत्थलगडा के राजकीय मध्य विद्यालय के एक सरकारी शिक्षक ने अपनी गंदी मानसिकता का परिचय देते हुए शिक्षकों के एक विभागीय व्हाट्सएप ग्रुप में अश्लील फोटो पोस्ट की है। उक्त व्हाट्सएप ग्रुप में पत्थलगडा के सभी सरकारी और पारा शिक्षक व शिक्षा विभाग के कई बड़े अधिकारी जुड़े हुए हैं। ग्रुप में कई शिक्षिकाएं भी है। जो पोस्ट आने के बाद शर्मसार हुई हैं। कई शिक्षिकाओं ने अश्लील पोस्ट आने के बाद ग्रुप से लेफ्ट ले लिया है और इसकी शिकायत संबंधित विभाग के अधिकारियों से की है। “टीचर ग्रुप पत्थलगडा“ नामक व्हाट्सएप ग्रुप में 180 सरकारी शिक्षक, शिक्षिकाएं व पारा शिक्षक जुड़े हुए हैं। ग्रुप के एडमिन प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी अरविंद प्रसाद, बीआरपी लोकनाथ महतो, बीपीओ नीरज सहित कई सीआरपी इसके एडमिन हैं। दरअसल राजकीयकृत मध्य विद्यालय के एक शिक्षक कमलेश कुमार द्वारा यह अश्लील फोटो पोस्ट की गई है। वे फोटो पोस्ट करने के बाद ग्रुप से लेफ्ट भी हो गए। ग्रुप में अश्लील फोटो पोस्ट होने के बाद शिक्षक शिक्षिकाएं शर्मसार हैं। कई शिक्षक व शिक्षिकाओं ने भी ग्रुप से लेफ्ट ले लिया है और उन पर कार्रवाई करने की मांग की है। वहीं कई शिक्षिकाओं ने इसकी शिकायत अपने परिजनों से की है।
इसके पहले भी पत्थलगडा में शिक्षकों के ग्रुप में अश्लील पोस्ट किए जाने का मामला सामने आया था। तब एक पारा शिक्षक ने शिक्षकों के एक अधिकारी ग्रुप में अश्लील फोटो पोस्ट की थी। जिसके बाद मामला प्रखंड शिक्षा समिति में भी आया गया। आनन-फानन में आरोपी शिक्षक पर कार्रवाई भी की गई थी। उसके चयन मुक्त के लिए प्रखंड विकास पदाधिकारी ने जिला शिक्षा अधीक्षक को पत्र लिखकर मार्गनिर्देशन मांगा था। एक बार फिर यहां शिक्षकों के ग्रुप में अश्लील पोस्ट ने सबके होश उड़ा कर रख दिए हैं। शिक्षकों के विभागीय ग्रुप में आपत्तिजनक पोस्ट आने के बाद मामला फिर से तूल पकड़ लिया है। आरोपी शिक्षक पर कार्रवाई करने की मांग की जा रही है।
बताते हैं कि एक हफ्ते पूर्व ही प्रखंड विकास पदाधिकारी मोनी कुमारी ने शिक्षकों के व्हाट्सएप के ग्रुप एडमिन को कड़ी हिदायत देते हुए चेतावनी दी थी। उन्होंने कहा था कि जिस किसी भी ग्रुप में अमर्यादित, आपत्तिजनक व अश्लील पोस्ट होते हैं उस ग्रुप के एडमिन पर कार्रवाई की जाएगी। प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बकायदा ग्रुप एडमिन को नोटिस जारी किया था और हिदायत दी थी। प्रखंड विकास पदाधिकारी की हिदायतों के बावजूद एक बार फिर यहां शिक्षकों के व्हाट्सएप ग्रुप में आपत्तिजनक पोस्ट ने न सिर्फ सभी को हैरत में डाल दिया है बल्कि शिक्षा जगत का वातावरण भी पूरी तरह दूषित हो रहा है।

Recent Posts

%d bloggers like this: