May 11, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एक कि.मी का सफर तय कर वैक्सीन लेने पहुंचे 81 वर्षीय बाबूराम हेम्ब्रम

दुमका:- जब इरादे मजबूत हो तो बड़ी से बड़ी मुश्किले भी छोटी लगने लगती है। जहां एक ओर कोरोना का कहर पूरे विश्व में त्रासदी मचा रहा है, लोग भयभीत होकर घरों में रहने को मजबूर है वहीं दूसरी ओर कुछ मिशाल ऐसे हैं जो कोरोना से जंग लड़ने को निकल पड़े हैं। ये केवल एक जागरूक नागरिक का कर्तव्य ही नही बल्कि समाज मे एक आदर्श की मिशाल प्रस्तुत कर रहे हैं।
कहते हैं बुलंद हौसलो की कोई उम्र सीमा नहीं होती। ऐसी ही मिसाल पेश की है मुरभंगा गांव के 81 वर्षीय बाबूराम हेम्ब्रम ने एक कि.मी. दूर साइकिल से यात्रा कर काठीकुंड के कालाझार पंचायत अंतर्गत उत्क्रमिक मध्य विद्यालय, दलदली में बनाये गए टिका केंद्र पहुंच कर कोविड-19 का टीकाकरण कराया।
बाबूराम हेम्ब्रम किसी आम व्यक्ति की तरह चल फिर नहीं सकते हैं। बहुत मुश्किलों से वे एक किलोमीटर का रास्ता तय कर वैक्सीन लेने टीकाकरण केंद्र पहुंचे। इनसे बात करने पर उन्होंने कहा कि मेरा आने का मकसद केवल वैक्सीन लेना ही नहीं है बल्कि लोगों को भय मुक्त वैक्सीन लेने की अपील भी करना है। मैं सीधे चल नहीं सकता फिर भी टीकाकरण केंद्र तक आकर टिका लिया हूँ मैं उन लोगों से कहना चाहता हूं जो स्वास्थ्य होकर भी कोविड का टीका लेने, केंद्र तक नहीं आ रहे हैं। मेरी उनसे अनुरोध है कि टीकाकरण केंद्र पहुंचकर टीका अवश्य लीजिए।
बाबूराम हेम्ब्रम के इस जज्बा को देखकर काठीकुंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी रजनीश कुमार ने स्वयं उन्हें ले जाकर टीकाकरण कराया एवं उन्हें बाहर साइकिल तक छोड़ने गए। उन्होंने उनकी इस कार्य की सराहना की और कहा कि हमें इनसे सीखने की आवश्यकता है। सीखने के लिए कोई उम्र सीमा नहीं होती। उन्होंने कहा कि बहुत से लोग टीका लेने आये या लाये गए। लेकिन इनके जैसा कोई नहीं दिखा। बाबूराम हेम्ब्रम टिका लेकर एक मिसाल साबित करते हुए समाज को जागरूक करने का कार्य किया है।
इस दौरान प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी रवि प्रकाश, प्रखंड कार्यालय एवं स्वास्थ्य विभाग के कर्मी भी मौजूद थे।

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
%d bloggers like this: