अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पटना एम्स में 202 डॉक्टर सहित 607 स्वास्थ्यकर्मी कोरोना पॉजिटिव, अस्पताल प्रबंधन की बढ़ी परेशानी


पटना:- पटना एम्स में कोरोना विस्फोट हो चुका है। तीसरी लहर में पांच जनवरी से अब तक अस्पताल के कुल 607 स्वास्थ्य कर्मी और डॉक्टर संक्रमित हो चुके हैं। इसमें 202 डॉक्टर हैं। वहीं 313 नर्सिंग स्टाफ हैं। इतनी बड़ी संख्या में स्वास्थ्य कर्मियों के संक्रमित होने से अस्पताल प्रबंधन के लिए परेशानी बढ़ गई है। संक्रमित होने वालों में सबसे अधिक जूनियर रेजिडेंट डॉक्टर हैं। इसमें 53 सीनियर रेजिडेंट डॉक्टर हैं, जबकि 13 कंसल्टेंट और 20 इंटर्न शामिल हैं। 45 टेक्निकल स्टाफ और 23 अटेंडेट भी शामिल हैं। वहीं, गुरुवार को एम्स में 15 डॉक्टर सहित 72 स्वास्थ्यकर्मी संक्रमित हो गए। इनमें 37 नर्सिंग स्टॉफ हैं। इसके अलावा आठ जूनियर रेजिडेंट, चार सीनियर रेजिडेंट, एक इंटर्न और दो कंसल्टेंट शामिल हैं।
एनएमसीएच में अब तक 64 डॉक्टर संक्रमित
अस्पतालों में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। पटना एम्स में 10 जनवरी से भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या बढ़ रही है। गुरुवार तक एम्स में कुल 64 मरीज भर्ती हो चुके थे। एम्स में दस जनवरी को चार, 11 जनवरी को 18, 12 जनवरी को 21 और 13 जनवरी को 28 मरीज भर्ती हुए हैं। भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। पीएमसीएच में भी दो मरीज भर्ती हुए। हालांकि, पीएमसीएच में कुल 7 मरीज भर्ती हैं। वहीं, आईजीआईएमएस में एक मरीज भर्ती हुआ है।

%d bloggers like this: