January 19, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दिसंबर में बिजली खपत में 6.1% की वृद्धि

नई दिल्ली:- देश में बिजली खपत दिसंबर महीने में 6.1 प्रतिशत बढ़कर 107.3 अरब यूनिट रही। यह आर्थिक गतिविधियों में तेजी को बताता है। पिछले साल दिसंबर महीने में बिजली खपत 101.08 अरब यूनिट रही थी। छह महीने के अंतराल के बाद बिजली खपत में सालाना आधार पर सितंबर महीने में 4.5 प्रतिशत और अक्टूबर में 11.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इससे पहले नवंबर महीने में बिजली खपत में वृद्धि धीमी रही और यह 3.12 प्रतिशत बढ़कर 96.88 अरब यूनिट रही। जबकि 2019 के इसी महीने में यह 93.94 अरब यूनिट थी। विशेषज्ञों के अनुसार दिसंबर महीने में बिजली खपत में 6.1 प्रतिशत की वृद्धि और बिजली की अधिकतम मांग अब तक के सर्वाधिक स्तर 1,82,888 मेगावाट पर पहुंचना देश में आर्थिक गतिविधियों में तेजी का स्पष्ट संकेत देता है। उनका अनुमान है कि आने वाले महीनें में बिजली मांग में वृद्धि और स्थिर होगी।

पिछले सप्ताह बिजली सचिव एस एन सहाय ने ट्विटर पर लिखा था, ‘‘आज (30 दिसंबर) को 9.48 बजे बिजली की अधिकतम मांग 1,82,888 मेगावाट पहुंच गई जो अब तक की सर्वाधिक मांग है। इससे पहले 30, मई 2019 को दोपहर 2.58 बजे बिजली की अधिकतम मांग 1,82,610 मेगावाट पहुंची थी। जो भी मांग आई, उसे पूरा किया गया।” सरकार ने कोविड-19 महामारी को फैलने से रोकने के लिए देश में 25 मार्च को लॉकडाउन लगाया। इसके कारण आर्थिक गतिविधियां प्रभावित होने से मार्च से बिजली खपत में गिरावट शुरू हुई। महामारी के कारण इस साल लगातर छह महीने मार्च से अगस्त तक बिजली की खपत में गिरावट आई। मार्च में इसमें 8.7 प्रतिशत, अप्रैल में 23.2 प्रतिशत, मई में 14.9 प्रतिशत, जून में 10.9 प्रतिशत, जुलाई में 3.7 प्रतिशत और अगस्त में 1.7 प्रतिशत की गिरावट आई। आंकड़े के अनुसार फरवरी में बिजली खपत में 11.73 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी।

Recent Posts

%d bloggers like this: