January 26, 2021

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

वाराणसी से 532 मीट्रिक टन चावल कतर किया गया निर्यात

वाराणसी:- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिस काले चावल का खास उल्लेख किसानों की आमदनी बढ़ाने के संदर्भ में किया था,उसकी एक बड़ी खेप बुधवार को उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी से खाड़ी के देश कतर की राजधानी दोहा के लिए भेजी गई। कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) (वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय) के अध्यक्ष एम अंगामुथु एवं वाराणसी के मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने 532 मीट्रिक टन कई किस्मों के चावल से लदे तीन बड़े ट्रकों को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।

इस में 532 मीट्रिक टन में से चंदौली में उपजायी गई 12 मीट्रिक टन ‘काला’ चावल है जबकि 520 मीट्रिक टन ‘सांबा’ एवं अन्य कुछ किस्मों के चावल शामिल हैं। चावल से भरे तीनों ट्रकों को यहां से गुजरात और फिर समुद्री जहाज के माध्यम से खाड़ी के देश कतर की राजधानी दोहा पहुंचाया जायेगा। श्री मोदी के संसदीय क्षेत्र के हरहुआ रिंग रोड चौराहा सिंधोरा रोड अंडर पास ट्रकों को हरी झंडी दिखाने के बाद श्री अंगामुथु ने संवाददाताओं से कहा, “वाराणसी एवं आसपास के जिलों के कृषि उत्पादों को विदेशों में निर्यात करने की मुहिम में आज एक नई कड़ी जुड़ गयी।” श्री अंगामुथु ने कहा कि पूर्वांचल के किसानों की पैदावार को निर्यात करने की लगातार पहल हो रही है। इससे उत्तम किस्म की खेती के साथ-साथ किसानों की आय में भी वृद्धि होगी। आने वाले समय में हॉर्टिकल्चर के साथ-साथ फूलों भी निर्यात किये जाएंगे। इस बीच श्री अग्रवाल ने बताया कि हाल ही में ‘वर्चुअल मीटिंग’ के दौरान कई देश के बहुत से निर्यातकों ने यहां के उत्‍पाद के प्रति खासी दिलचस्‍पी दिखाई थी। काले चावल का विशेष तौर पर जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इसकी मांग 80 टन के आसपास है। इस बार ज्‍यादा उत्पादन होने के कारण मांग पूरी करने की उम्मीद की जा रही है। उन्होंने कहा कि चंदौली में गत दो-तीन वर्ष से काला चावल उपजायी की जा रही है। उपज का अच्छा मूल्य किसानों को दिलाने के लिए एपीडा के माध्यम से विदेशों में निर्यात कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री के लक्ष्य एवं संकल्प के अनुरूप आने वाले समय में किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में कारगर प्रयास किया जा रहा है। वाराणसी समेत पूरे परिक्षेत्र को कृषि उपज निर्यात एवं फूड प्रोसेसिंग का बहुत बड़ा केंद्र बनाया जा रहा है।

Recent Posts

%d bloggers like this: