अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सीरीज में लगाये गये 50 आईडी बम बरामद


सरायकेला:- झारखंड में सरायकेला सरायकेला-खरसावां जिले में सुरक्षा बलों को नक्सलियों के खिलाफ अभियान में एक और बड़ी सफलता हाथ लगी है। जिला पुलिस, जगुआर और सीआरपीएफ 157 बटालियन के संयुक्त सर्च ऑपरेशन के दौरान लगातार दो दिनों में 50 केन बम बरामद करते हुए सभी को डिफ्यूज किया गया है।
जिले के पुलिस अधीक्षक आनंद प्रकाश ने शुक्रवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि कुचाई थाना क्षेत्र के दलभंगा ओपी अंतर्गत नीमडीह, पाण्डुबुरु एवं डोडारदा जाने वाली जंगली कच्ची पहाड़ी के रास्ते में सुरक्षा बलों को जानमाल की क्षति पहुंचाने के उद्देश्य से भाकपा माओवादी नक्सली संगठन के रमेश उर्फ अनल दा दस्ता द्वारा आईईडी बम प्लांट करके रखा गया था। इसकी गुप्त सूचना मिलने के बाद अपर पुलिस अधीक्षक अभियान सरायकेला- खरसावां और सीआरपीएफ के नीरज सिंह राठौर के नेतृत्व में जिला बल, एवं सीआरपीएफ झारखंड जगुआर की बीडीएस टीम 5 द्वारा एक संयुक्त विशेष अभियान चलाया गया।अभियान में शामिल सुरक्षाबलों द्वारा सफलतापूर्वक अभियान के संचालन के क्रम में 9 सितंबर को नीमडीह के पांडुपुर से कुदाहातु जाने वाली जंगली कच्ची पहाड़ी के रास्ते में सीरीज में करीब 25 केन बम, जिसका वजन 3 से 5 किलोग्राम बरामद किया गया। जिसके बाद आज पुनः अभियान चलाते हुए रुगुडीह से डोडारदा जाने वाली जंगली कच्ची पहाड़ी के रास्ते में सीरीज में करीब 25 केन बम बरामद किया गया। अभियान के दौरान बरामद आईईडी को बम निरोधक दस्ता द्वारा सावधानीपूर्वक डिफ्यूज कर दिया गया. उन्होंने बताया कि आईईडी बम से सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने के लिए अनल दा के दस्ते द्वारा प्लांट किया गया था. जिसे समय रहते नष्ट कर दिया गया। अन्यथा पुलिस पार्टी एवं ग्रामीणों को भारी क्षति हो सकती थी।एसपी ने नक्सलियों से समाज की मुख्यधारा में लौटने की अपील करते हुए टीम में शामिल सभी जवानों एवं पदाधिकारियों के कार्यों की सराहना की. उन्होंने सभी के मनोबल को ऊंचा बनाए रखने हेतु उचित पुरस्कार के लिए अनुशंसा किए जाने की बात कही।
गौरतलब हैकि एक हफ्ते पूर्व भी इसी इलाके से 35 केंद्र बम बरामद किए गए थे। जिस टीम द्वारा डिफ्यूज कर दिया गया था। एक बार पुनः इसी इलाके से केन बम बरामद होने से सुरक्षाबलों की चुनौती बढ़ गई है। हालांकि जिले के एसपी का दावा है जिला पुलिस नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में काफी सतर्कता बरत रही है। उन्होंने अभियान में शामिल सभी जवानों एवं अधिकारियों को इनाम देने की अनुशंसा किए जाने की बात कही।

%d bloggers like this: