अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बीएयू में राज्य कोटे से 285 छात्रों ने कराया नामांकन, 176 सीटें रिक्त


रांची:- झारखण्ड के एकमात्र कृषि विश्वद्याविलय के स्नातक पाठ्यक्रमों के सत्र 2020-21 में राज्य कोटे से नामांकन का पहला चरण बुधवार को पुरा कर लिया गया. पहले चरण में विश्वविद्यालय के कृषि, वेटनरी एवं वानिकी संकाय के अधीन संचालित महाविद्यालयों में राज्य कोटे से कुल 285 छात्र दृ छात्राओं ने नामांकन लिया. जबकि राज्य कोटे से करीब 176 सीटें रिक्त रह गयी है.
झारखण्ड संयुक्त प्रवेश प्रतियोगिता परीक्षा पर्षद (जेसीइसीइबी) ने ऑनलाइन प्रवेश परीक्षा के आधार सफल अभ्यर्थियों की मेधा सूची एवं कॉलेज आवंटन की सूचना विश्वविद्यालय को भेजी थी. कोविड दृ 19 के दिशा – निर्देश का पालन करते हुए महाविद्यालयों ने 6 से 12 जनवरी तक प्रथम काउंसेलिंग के तहत नामांकन प्रक्रिया चलाई. संभावना व्यक्त की जा रही है कि रिक्त पड़ी 176 सीटों के लिए जेसीइसीइबी द्वारा 17 जनवरी से द्वितीय काउंसेलिंग की प्रक्रिया शुरू होगी.
डीन एग्रीकल्चर डॉ एसके पाल ने बताया कि कृषि संकाय अधीन कार्यरत 6 महाविद्यालयों में राज्य कोटे से स्नातक पाठ्यक्रमों के कुल 308 के विरूद्ध 195 छात्र दृ छात्राओं ने नामांकन लिया. इनमें 79 छात्र तथा 116 छात्राएँ शामिल है. राज्य कोटे से रांची कृषि महाविद्यालय में 14, कृषि महाविद्यालय गढ़वा में 21, रविन्द्र नाथ टैगोर कृषि महाविद्यालय देवघर में 21 एवं तिलका मांझी कृषि महाविद्यालय गोड्डा में 15 सीटें रिक्त रह गई है. जबकि कृषि अभियंत्रण महाविद्यालय कांके में 11 तथा उद्यान महाविद्यालय, खूँटपानी (चाईबासा) में 31 सीटें खाली है. पहले चरण में इस वर्ष नामांकन का प्रदर्शन बढ़िया रहा है. उम्मीद है द्वितीय चरण में सभी सीटों पर नामांकन पूरी हो जायेगी.
सहायक कुलसचिव वानिकी संकाय डॉ पीआर उराँव ने बताया कि वानिकी महाविद्यालय के स्नातक पाठ्यक्रम में कुल 50 सीटें है. इनमें राज्य कोटे में उपलब्ध कुल 42 सीटों के विरूद्ध कुल 24 छात्र दृ छात्राओं ने नामांकन लिया. जिनमें 06 छात्र तथा 18 छात्राएँ है. राज्य कोटे से रिक्त रह गई 18 पर सीटों पर द्वितीय काउंसेलिंग के माध्यम से नामांकन होगा.
डीन वेटनरी डॉ सुशील प्रसाद ने बताया कि वेटनरी संकाय अधीन रांची वेटनरी कॉलेज के स्नातक पाठ्यक्रम में कुल 60 सीटें है. राज्य कोटे के 51 सीटों में मात्र 9 सीटें ही रिक्त रह गई है. शेष 9 सीटों पर अखिल भारतीय स्तर पर जबकि वेटनरी कौंसिल ऑफ़ इंडिया (भीसीआई) की अनुशंसा से नामांकन होगा.जबकि फूलो झानो दुग्ध प्रौद्योगिकी महाविद्यालय, हंसडीहा (दुमका) में राज्य कोटे के कुल 30 सीटों में 14 विद्यार्थियों ने नामांकन लिया है और 16 सीटें अब भी खाली है.
फिशरीज साइंस कॉलेज, गुमला के एसोसिएट डीन डॉ एके सिंह ने बताया कि महाविद्यालय में कुल 10 विद्यार्थियों ने नामांकन लिया है, जबकि 20 सीटें खाली रह गई है.

%d bloggers like this: