December 2, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

साफ नीयत औऱ सही सोच के साथ आगे बढ़े, मंजिल निश्चित तौर पर मिलेगी -मुख्यमंत्री

जैप-वन मैदान में अलंकरण दिवस परेड का आयोजन

रांची:- झारखंड राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर जैप- वन मैदान में अलंकरण दिवस परेड का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन उपस्थित थे। मुख्यमंत्री ने राज्य के छह शहीद पुलिसकर्मियों के परिजनों को 25-25हजार रुपये का चेक ऑर शॉल देकर सम्मानित किया। जिन शहीद पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया गया, उनमें नीलमणि देवी, पति शहीद स०अ०नि० शुकरा उरांव, विक्की कुमार पुत्र शहीद गृहरक्षक जमुना प्रसाद, पद्मिनी देवी पति शहीद गृहरक्षक सतेन्द्र सिंह, मुनी कुमारी, पति शहीद शम्भू प्रसाद सिंह, बालमुनि गगराई,पति शहीद स्व०आ० लखिन्द्र मुण्डा औरसुनीता सोरेन, पति शहीद स०अ०नि० चन्द्राई सोरेन को शामिल है।
इस अवसर पर राज्य पुलिस के पदाधिकारियों और कर्मियों को उनके कार्यक्षेत्र में किये गये उत्कृष्ट सेवाओं के लिये विभिन्न पदकों से सम्मानित किया गया। विशिष्ट सेवा के लिए पुलिस महानिरीक्षक, अभियान साकेत कुमार सिंह तथा दो अन्य को झारखंड राज्यपाल पदक से सम्मानित किया गया।जबकि चक्रधरपुर के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी नाथू सिंह मीणा सहित कुल 47 पदाधिकारी एवं पुलिसकर्मियों को मुख्यमंत्री वीरता पदक से सम्मानित किया गया।
सराहनीय सेवा के लिए झारखंड पुलिस पदक से पुलिस उप-महानिरीक्षक अखिलेश कुमार झा, वरीय पुलिस अधीक्षक एम० तमिल वाणन सहित कुल 30 पुलिस पदधिकारी और पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया गया। बुनियादी प्रशिक्षण के दौरान बेहतर प्रदर्शन करने वाले पांच अन्य पुलिस पदाधिकारी भी सम्मानित किये गये।इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने झारखण्ड पुलिस की सभी इकाईयों द्वारा राज्य में अपराध नियंत्रण के साथ-साथ नक्सलियों से भी वीरता पूर्वक लोहा लेने के लिये राज्य पुलिस की सराहना की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पुलिस की भूमिका न सिर्फ कठिन है, बल्कि अत्यन्त महत्वपूर्ण भी है। झारखण्ड पुलिस ने इस वर्ष कोविड-19 जैसे वैश्विक महामारी के दौरान न सिर्फ विधि-व्यवस्था ड्युटी निभाई है बल्कि समाज के समक्ष पुलिस का मानवीय चेहरा भी दिखाया है जो पूरे राज्य के लिये गर्व की बात है। इस महामारी के दौरान झारखण्ड पुलिस के प्रयास की जितनी प्रशंसा की जाये कम है। लॉकडाउन के दौरान आपलोगों ने विभिन्न राज्यों से पैदल वापस आ रहे जरूरतमंदों को उनके घर पहुँचने में न सिर्फ सहयोग देने का कार्य किया बल्कि राज्य के थानों में सामुदायिक रसोई के माध्यम से जरूरतमंद लोगों को भोजन भी उपलब्ध कराया जिसे पूरे देश में सराहा गया।

इस अवसर पर गृह सचिव राजीव अरुण एक्का, पुलिस महानिदेशक एम०वी०राव, पुलिस महानिदेशक,जैप नीरज सिन्हा, सेवानिवृत्त पुलिस महानिदेशक पी०आर०के०नायडू, अपर पुलिस महानिदेशक अनिल पाल्टा,श्री प्रशांत सिंह आर०के०मल्लिक, मुरारी लाल मीणा, पुलिस महानिरीक्षक सुमन गुप्ता, प्रिया दूबे, सुधीर कुमार झा, साकेत कुमार सिंह,पुलिस उप-महानिरीक्षक अखिलेश कुमार झा, कुलदीप द्विवेदी, ए०विजयालक्ष्मी, शैलेन्द्र सिन्हा, पुलिस अधीक्षक अनीष गुप्ता, वरीय पुलिस अधीक्षक, रांची सुरेन्द्र झा, श्रीमती संध्यारानी मेहता, पुलिस अधीक्षक, यातायात अजीत पीटर डुंगडुंग सहित राज्य के अन्य वरीय एवं कनीय पदाधिकारी उपस्थित थे।

Recent Posts

%d bloggers like this: