November 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

झारखंड के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स की लापरवाही सामने आई

रांची:- राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स की लापरवाही सामने आई है। बुधवार देर रात रिम्स कोविड वार्ड में ऑक्सीजन खत्म हो गया, जिससे मरीज छटपटाने लगे। ऑक्सीजन खत्म होने के कारण अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई और परिजन हंगामा करने लगे।

20 मरीज थे हाइफ्लो ऑक्सीजन पर

20 मीरज हाई फ्लो ऑक्सीजन पर थे, इसी से रिम्स प्रबंधन की लापरवाही का अंदाजा लगाया जा सकता है कि अस्पताल प्रबंधन को इस बात का भी अंदाजा नहीं था कि हाइफ्लो ऑक्सीजन पर जो मरिज थे उसमें कितना ऑक्सीजन बाकी है, न इसकी खबर अस्पताल प्रबंधन को थी और न ही उस वार्ड के इंचार्ज को। जब हंगामा मचा तब पता चला कि वार्ड के ऑक्सीजन सिलेंडर में ऑक्सीजन बचा ही नहीं है।

परिजनों बताया : पांच मिनट के भीतर नाक से आ गया खून

कोरोना संक्रमित गंभीर मरीज के एक परिजन ने बताया कि जब ऑक्सीजन खत्म हुआ तब वह अपने पति के पास ही बैठी थी। ऑक्सीजन खत्म होते ही अचानक उनके पति तड़पने लगे। पांच मिनट के भीतर नाक से खून आना शुरू हो गया था। नर्स को बताने पर एक छोटा ऑक्सीजन सिलिंडर लाकर लगाया गया, लेकिन वह भी खाली था। बलून पंप करने के बाद भी वह काम नही कर रहा था। बगैर ऑक्सीजन के वे एक घंटे से अधिक तड़पते रहे।

हर दिन 40-50 सिलिंडर का है खर्च

वहीं पूरी लापरवाही का ठीकरा रिम्स प्रबंधन एजेंसी के मत्थे फोड़ रहा है। रिम्स के चिकित्सा अधीक्षक डाॅ. विवेक कश्यप ने बताया कि एजेंसी यह घटना ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली एजेंसी की लापरवाही से हुई है। रात में ऑक्सीजन अचानक खत्म होने से अफरातफरी का माहौल बना हुआ था। उन्होंने बताया कि एजेंसी हर रात स्टॉक में 40 से 50 सिलेंडर रिफिल करती है, लेकिन किन्हीं कारणों से मंगलवार को समय पर सिलेंडर उपलब्ध नही कराया गया। उन्होंने बताया कि इसकी जांच कराकर दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: