November 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दुमका में तीर निशाना पर लगा, बेरमो में जनता ने हाथ थामा

झारखंड में सत्तारूढ़ गठबंधन में मिली बड़ी राहत

रांची:- झारखंड विधानसभा उपचुनाव में सत्तारूढ़ झारखंड मुक्ति मोर्चा(जेएमएम), कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) गठबंधन सरकार कोबड़ी राहत मिली है। दोनोंही सीटों पर जेएमएम और कांग्रेस प्रत्याशियोंकी जीत हुई।
दुमका विधानसभा उपचुनाव में जेएमएम के बसंत सोरेन ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी बीजेपी की लुईस मरांडी को 6512 मतों के अंतर से पराजित किया। बसंत सोरेन को 80190 और लुईस मराण्डी को 73678 वोट मिले। बसंत पहली बार चुनाव मैदान में थे, जबकि लुइस चौथी बार चुनाव लड़ी। लुइस 2014 में दुमका सीट से चुनाव जीती थीं और समाज कल्याण मंत्री बनी थीं। इससे पहले आज सबेरे 8 बजे दुमका इंजीनियरिंग कालेज में मतगणना शुरू हुई। कुल 18 राउंड में मतों की गिनती हुई। पहले11 राउंड तक लुइस मरांडी आगे चल रही थीं। 12वें राउंड से बसंत सोरेन ने बढ़त ली, जो अंत तक बनी रही। बसंत सोरेन के चुनाव जीतने पर झामुमो कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाया, पटाखे फोडे और मिठाइयाँ बांटीं। राज्य के कृषि मंत्री बादल ने दुमका के खिजुरिया स्थित सोरेन आवास पर पहुंच बसंत सोरेन को बधाई दी।
इधर, बेरमो विधानसभा के मतदाताओं ने एक बार फिर से कांग्रेस पर अपना विश्वास जताया है। महागठबंधन के साझा प्रत्याशी कांग्रेस के कुमार जयमंगल सिंह ने 14223 हजार से अधिक वोट से बीजेपी के योगेश्वर महतो बाटुल पर जीत दर्ज की है। कुमार जयमंगल सिंह को कुल 92751 वोट मिले हैं, जबकि योगेश्वर महतो बाटुल को मत 78528 ही प्राप्त हुए हैं।
मीडिया से बात करते हुए कुमार जय मंगल सिंह ने कहा स्वर्गीय राजेंद्र प्रसाद सिंह द्वारा 50 वर्षों तक की गई सेवा को बेरमो की जनता ने श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने कहा, महागठबंधन के नेताओं ने बाहरी भीतरी और वंशवाद का मुद्दा उठाकर बेरमो का माहौल खराब करने की कोशिश की। जिसका उन्हें खामियाजा उठाना पड़ा। अब वे अगले 4 वर्षों तक काम करके राजेंद्र बाबू के सपने और अधूरे कार्यों को पूरा करेंगे। यही उनकी प्राथमिकता है। मतगणना के शुरुआती दौर में काफी उतार-चढ़ाव देखने को मिला, लेकिन 5 राउंड की गिनती के बाद कांग्रेस उम्मीदवार कुमार जयमंगल सिंह लगातार बढ़त बनाने में कामयाब रहे।

Recent Posts

%d bloggers like this: