December 2, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

75 उम्मीदवारों के भाग्य ईवीएम में बंद, जीत हार के गुणा भाग में लगे उम्मीदवार

सुपौल:- तीसरे चरण में जिले के पांच विधानसभा क्षेत्र में चुनाव सम्पन्न होने के बाद 75 उम्मीदवारों के भाग्य जनता के आशीर्वाद के बाद ईवीएम में बंद हो गया। मतगणना की गिनती भले ही 10 नवम्बर को होगी। उम्मीदवार और उनके समर्थक जीत हार की गुना भाग में जुट गए हैं। एक तरफ जहां एग्जिट पोल आने के बाद महागठबंधन खेमे में खुशी देखी जा रही है।दूसरी ओर एनडीए गठबंधन सरकार पुनः बनाने के दावे पर कायम हैं। अब देखना यह है कि 10 नवम्बर को किसके गले में जीत का माला होता है। मालूम हो कि सुपौल जिले के पांच विधानसभा क्षेत्र में से तीन पर जदयू, 1 पर भाजपा और 1 सीट पर राजद का कब्जा है। यह सीट 2015 में उस समय का है जब जदयू, कांग्रेस और राजद एक साथ चुनाव लड़ी थी। लेकिन इस बार राजद, कांग्रेस जहां एक साथ वही भाजपा और जदयू एक साथ चुनाव लड़ रही है। दबी जुबान से एनडीए व महागठबंधन के समर्थकों का कहना है कि लोजपा और जाप के चुनाव मैदान में आ जाने से दोनों खेमा को नुकसान होगा। ऐसे में जीत हार का मारजिंग काफी कम होगा। नियोजित शिक्षकों के चेहरे पर हंसी- अंतिम चरण का चुनाव सम्पन्न होने के बाद भले ही समर्थकों के चेहरे पर चिंता की लकीर दिख रही हो। लेकिन नियोजित नियोजित शिक्षकों के चेहरे की रौनकता बढ़ गई है। चुनाव कार्यालय में पसरा सन्नाटा- कल तक जहां समर्थकों से कार्यालय भरा रहता था आज वहां सन्नाटा दिख रहा है। नेताजी और उनके करीबी समर्थक मोबाइल ऑफ कर गहरी निंदा में सोए हुए हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: