November 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

एक्जिट पोलः बिहार में नीतीश पर भारी पड़े तेजस्वी

nitishvstej
राजद नीत महागठबंधन की बन सकती है सरकार

नयी दिल्ली :- बिहार विधानसभा की 243 सीटों के लिए शनिवार को हुए 78 सीटों पर तीसरे और अंतिम चरण के मतदान के बाद विभिन्न निजी चैनलों की ओर से प्रसारित एग्जिट पोल में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेतृत्व वाली महागठबंधन सरकार बनने के संकेत मिले हैं। वहीं सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के हाथों राज्य की सत्ता फिसलती नजर आ रही है।
बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे कोविड-19 महामारी के बीच 10 नवंबर को घोषित किये जाएंगे। किसी भी गठबंधन को बहुमत हासिल करने के लिए 122 सीटोंं की जरुरत है।
‘टाइम्स नाउ-सी वोटर’ एग्जिट पोल ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सत्तारूढ़ राजग सरकार को 116 सीटें दी हैं। राजद के नेतृत्व वाली महागबंधन को 120 सीटें मिलने का अनुमान है।
‘जन की बात’ एग्जिट पोल में राजग को 91 से 117 के बीच सीटें मिलने का दावा किया गया है तो राजद को 118 से 138 के बीच सीट प्राप्त होने की संभावना बताई गई है जबकि कांग्रेस और लोक जनशक्ति पार्टी को पांच से आठ और अन्य को तीन से छह सीटें मिल सकती हैं।
इंडिया टीवी के मुताबिक सत्तारूढ राजग को 112 सीटें मिल सकती हैं जिसमें भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को 70 सीटें और जनता दल (यूनाइटेड) को 42 मिलने का अनुमान है जबकि 110 सीटें महागठबंधन के खाते में जाती दिख रही है। जिसमें कांग्रेस को 25 और राजद के खाते में 85 सीटें मिलने का अनुमान है।
टीवी9 भारतवर्ष के एग्जिट पोल की माने तो राजग को 115 सीटें और महागबंधन के खाते में 120 सीटें आ सकती हैं। इसके अलावा लोक जनशिक्त चार सीटें जीत सकती है जबकि अन्य के खाते में चार सीटें आ सकती हैं।
राज्य में शुक्रवार को तीसरे चरण में 78 सीटों पर मतदान समाप्त हुआ। इस बार तीन चरण में मतदान कराया गया। 28 अक्टूबर को 16 जिले के 71 विधानसभा क्षेत्र में हुए प्रथम चरण के मतदान में 55.59 प्रतिशत वोट पड़े वहीं दूसरे चरण में तीन नवंबर को 17 जिले के 94 विधानसभा क्षेत्र में हुए मतदान में 55.70 प्रतिशत वोट डाले गए। तीसरे और आखिरी चरण के चुनाव में अंतिम समाचार मिलने तक करीब 57 प्रतिशत वोटरों ने मतदान में हिस्सा लिया है।
बिहार में कुल मतदाताओं की संख्या 7.3 करोड़ थी, जिसमें से 54 प्रतिशत ने औसतन 243 सीटों पर मतदान कर उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला किया। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार तीन बार चुनाव जीत चुके है और चौथी बार फिर से चुनाव जीतने की आश लगाए हुए हैं।
इंडिया टुडे टेलिविजन नेटवर्क के मुताबिक 44 प्रतिशत लोग राजद के तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री के रूप में देखाना चाहते हैं जबकि 35 प्रतिशत ने नीतीश कुमार काे फिर से मुख्यमंत्री बनाने का समर्थन किया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: