November 30, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सिक्योरिटी क्लीयरेंस मिलते ही पंजाब में शुरु कर दी जाएगी रेल सेवा : पीयूष गोयल

नई दिल्ली:- रेल मंत्री पीयूष गोयल ने शुक्रवार को एक बार फिर पंजाब सरकार से रेलकर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और पूरे रेल मार्ग व स्टेशनों को खाली कराने की अपील की। राज्य सरकार के आश्वासन के बावजूद अभी भी 22 स्थानों पर किसान डटे हुए हैं। जिन 9 स्थानों से किसानों का धरना पूरी तरह हट गया है वहां रेलवे ने मरम्मत कार्य शुरू कर दिया है। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा, रेलवे पंजाब में अपनी सेवाएं पूर्ण रूप से शुरू करने को तैयार है। राज्य सरकार से आग्रह है कि रेलकर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करे व सारे रेलवे ट्रैक्स व स्टेशन खाली कराए। राज्य सरकार अगर सहयोग करे, तो हम ट्रेन चला पायेंगे, जिससे यात्रियों व सेना को होने वाली असुविधा समाप्त होगी। उन्होंने कहा कि रेलवे पूरा प्रयास कर रहा है कि पंजाब में रेल सेवायें जल्दी से जल्दी शुरु हों। जिन स्थानों पर ब्लॉकेड हटे हैं, वहां मेनटेनेंस का कार्य शुरु किया गया है। राज्य सरकार से कहा किया गया है कि जैसे ही ब्लॉकेड हटेंगे, सिक्योरिटी क्लीयरेंस मिलेंगे, वैसे ही रेल सेवायें शुरु कर दी जायेंगी। वहीं रेल बोर्ड के अध्यक्ष व सीईओ विनोद कुमार यादव ने शुक्रवार को वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पंजाब में 31 स्थानों पर किसान आंदोलन के कारण रेल पटरियों पर रुकावटें थी। इनमें से 9 स्थानों से अवरोध (किसानों का धरना) हट गया है। इन सभी नौ स्थानों पर रेलवे ने मरम्मत का काम तेजी के साथ शुरू कर दिया है। शेष 22 स्थानों पर से भी अवरोध को हटाने के लिए आज सुबह भी चंडीगढ़ में आरपीएफ और राज्य पुलिस की बैठक हुई है। यादव ने कहा कि 24 सितंबर से किसान पंजाब में प्रदर्शन कर रहे हैं और यात्री ट्रेन उसी समय से बंद हैं। 29 सितम्बर तक मालगाड़ियों का परिचालन हुआ। पंजाब में पिछले 40 दिनों में 2300 मालगाड़ी और 1300 यात्री रेलगाड़ियों का परिचालन बाधित हुआ है। उन्होंने कहा कि रेलवे जल्द से जल्द इन्हें बहाल करने के लिए राज्य सरकार के साथ समन्वय बनाए हुए है। उन्होंने कहा कि रेलवे सभी रेलगाड़ियां एक साथ शुरू करना चाहता है इसके लिए उसे राज्य सरकार से यात्री ट्रेन, मालगाड़ी और तेल, कोल जैसे कमोडिटी की सभी रेलगाड़ियों की सुरक्षा गारंटी चाहता है। सीआरबी ने कहा कि पूर्व घोषित मेल और एक्सप्रेस रेलगाड़ियों में पहले से ही काफी बुकिंग है क्योंकि इन रेलगाड़ियों की 120 दिन की बुकिंग होती है। त्योहारों के समय में यात्रियों को रेलगाड़ियां उपलब्ध नहीं करा पाने पर अफसोस जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि प्रतिदिन ट्रेन रद्द करना उन्हें बुरा लग रहा है। उल्लेखनीय है कि रेलवे ने गुरुवार को कहा था कि उसे पंजाब सरकार से सुरक्षा और शुक्रवार तक रेल पटरियों से अवरोध हटने का आश्वासन मिला था।

Recent Posts

%d bloggers like this: