December 1, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पांच नवंबर तक पंजाब से निकल सकेंगी माल गाडिय़ां, किसानों का फैसला

टोल प्लाजा व रिलांया पैट्रोल पंप पर जारी रहेगा धरना

चंडीगढ़:- पंजाब के थर्मल प्लांट में कोयले तथा खेतों के लिए डीएपी की कमी को देखते हुए पंजाब के किसान संगठनों ने आगामी पांच नवंबर तक माल गाडिय़ों के आवागमन हेतु रेलवे ट्रैक खाली करने का ऐलान कर दिया है। इस बीच किसानों द्वारा यात्री गाडिय़ों को रोका जाएगा। पंजाब सरकार द्वारा विधानसभा में कृषि कानूनों के विरोध में प्रस्ताव पारित किए जाने के बाद बुधवार को पंजाब के तीस किसान संगठनों की एक बैठक चंडीगढ़ में हुई। इस बैठक में पंजाब के कैबिनेट मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, सुखजिंदर सिंह रंधावा, भारत भूषण आशु, सुखबिंदर सरकारिया समेत पंजाब सरकार के कई प्रतिनिधि पहुंचे। उन्होंने सरकार द्वारा लिए गए फैसलों के बारे में किसान संगठनों को अवगत कराया। कई घंटे तक चली बैठक में किसान संगठनों ने अब तक किए जा रहे आंदोलन की समीक्षा की। इसके बाद किसान नेता करतार सिंह साहनी, बलवीर सिंह राजेवाल तथा कई अन्यों ने बताया कि कोयले तथा डीएपी की कमी को देखते हुए पंाच नवंबर तक पंजाब से मालगाडिय़ों के आवागमन के लिए किसान संगठनों द्वारा रेलवे ट्रैक खाली कर दिए जाएंगे। इस बीच किसान रेलवे स्टेशनों पर अपने संकेतिक धरने जारी रखेंगे। उन्होंने बताया कि पंजाब के टोल प्लाजा, रिलांयस समूह के पैट्रोल पंप तथा रिलांयस स्टोर के बाहर चल रहे धरने बंद नहीं किए जाएंगे। यह पहले की तरह जारी रहेंगे। इस बीच पंजाब में भाजपा के सांसदों, विधायकों तथा अन्य वरिष्ठ नेताओं का घेराव कार्यक्रम पहले की तरह जारी रहेगा। किसान नेताओं ने कहा कि सभी संगठन चार नवंबर को दोबारा चंडीगढ़ में बैठक करके अगली रणनीति का ऐलान करेंगे।

Recent Posts

%d bloggers like this: